1. हिन्दी समाचार
  2. अमेरिकी सेना के ऑपरेशन में मारा गया ISIS सरगना अबु बकर अल-बगदादी

अमेरिकी सेना के ऑपरेशन में मारा गया ISIS सरगना अबु बकर अल-बगदादी

By रवि तिवारी 
Updated Date

National Isis Leader Abu Bakr Al Baghdadi Killed In Us Special Operation

नई दिल्ली। अमेरिका की सेना ने इस्लामिक स्टेट के लीडर और दुनिया के सबसे खूंखार आतंकवादी अबु बकर अल-बगदादी को निशाने पर लेते हुए सीरिया में एक बड़े ऑपरेशन को अंजाम दिया, जिसमें वह संभवत: मारा गया है। राष्ट्रपति ट्रंप शाम को प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाले हैं। अमेकिरी मीडिया का कहना है कि डॉनल्ड ट्रंप खुद इसकी जानकारी देंगे। जानकारी के मुताबक यह एक हवाई ऑपरेशन था जिसमें बगदादी को मार गिराया गया। हालांकि इसकी पुष्टि होनी बाकी है।

पढ़ें :- अनाथ हो चुके बच्चों व बुजर्गों के परवरिश का सारा खर्चा उठाएगी दिल्ली सरकार : केजरीवाल

अमेरिकी सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, शनिवार को उत्तर पश्चिमी सीरिया में एक रेड की गई, जिसमें अमेरिकी सेना ने ISIS प्रमुख अबू बक्र अल-बगदादी को निशाना बनाया। अधिकारी ने कहा कि CIA ने ISIS प्रमुख का पता लगाने में सहायता की। वहीं, कुछ अंतरराष्ट्रीय मीडिया रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि मोस्ट वांटेड आतंकवादी अबू बक्र अल-बगदादी सीरिया में अमेरिकी सैनिकों द्वारा की गई विशेष रेड में मारा गया है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, ISIS प्रमुख की हत्या करने वाली रेड को कथित तौर पर शनिवार को आयोजित किया गया। अमेरिकी सेना के अधिकारियों ने न्यूजवीक को बताया कि बगदादी सीरिया के इदलिब प्रांत में किए गए एक शीर्ष-गुप्त रेड का लक्ष्य था। रिपोर्ट्स के मुताबिक, अधिकारी ने यह भी कहा कि रेड में बगदादी मारा गया।

पेंटागन के एक अन्य सूत्र ने अमेरिकी साप्ताहिक को बताया कि विभाग को “हाई कॉन्फिडेंस” है कि रेड के दौरान मारा गया “हाई वैल्यू” टारगेट वास्तव में बगदादी था। हालांकि, अभी इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है। लेकिन, ये खबर आने से पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक ट्वीट करके कहा था कि “कुछ बहुत बड़ा हुआ है।”

व्हाइट हाउस के उप प्रेस सचिव होगन गिडले ने कहा, “अमेरिका के राष्ट्रपति रविवार को (स्थानीय समयानुसार) सुबह नौ बजे कोई बड़ा बयान देंगे।” शनिवार शाम ट्रंप ने ट्वीट कर लिखा, “अभी कुछ बहुत बड़ा हुआ है।” इस ट्वीट के बाद ही व्हाइट हाउस ने यह खबर दी।

पहले भी किया जा चुका है बगदादी के मारे जाने का दावा

तकरीबन दो साल पहले रूसी सेना ने भी दावा किया था कि उसके एक ऑपरेशन में  बगदादी मारा गया है, हालांकि बाद में यह खबर गलत साबित हुई थी। रूस की सेना ने 16 जून 2017 को कहा था कि उसने करीब 19 दिन पहले (28 मई को) सीरिया में इस्लामिक स्टेट के आतंकवादियों की बैठक पर हमला किया था, जिसमें आईएसआईएस सरगना के मारे जाने की आशंका है। यह हमला आईएस के मजबूत गढ़ रक्का के समीप एक स्थान पर किया गया था जहां आईएस नेता अबू बकर अल बगदादी भी मौजूद था। डिफेंस मिनिस्ट्री के बयान में ये भी बताया गया था कि यह हमला 28 मई को किया गया था।  

पढ़ें :- हैवानियत : शारीरिक संबंध बनाओ तभी मिलेगी ऑक्सीजन, लोगों का फूटा गुस्सा

बगदाद के एक छोटे से शहर में पैदा हुआ बगदादी

अबू बकर अल-बगदादी आईएसआईएस आतंकी संगठन का सरगना है। इसका ठिकाना ईराक और सीरिया में है। हालांकि उसके ठिकानों की सही जानकारी अभी तक किसी के पास नहीं है। वह बगदाद के एक छोटे से शहर में पैदा हुआ था। उसने बचपन से ही कट्टरपंथी विचारधारा को अपना लिया था। ऐसा कहा जाता है कि उसने अपने परिवार के लिए भी कुछ कठिन नियम बनाए थे और उसने कुछ लोगो को सजा भी दी थी।  

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X