1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. शबनम को फांसी देने पर देश में आयेंगी प्राकृतिक आपदाएं, महंत ने कहीं ये बड़ी बातें..

शबनम को फांसी देने पर देश में आयेंगी प्राकृतिक आपदाएं, महंत ने कहीं ये बड़ी बातें..

By शिव मौर्या 
Updated Date

अयोध्या। हमारे देश भारत में आजादी के बाद पहली बार किसी महिला को फांसी दी जानी है। यदि शबनम को फांसी दी जाती है तो यह पहला मामला होगा की आजाद भारत में किसी महिला को फांसी दी जा रही हो। उत्‍तर प्रदेश के अमरोहा के बाबनखेड़ी गांव की शबनम को अपने ही परिवार के सात लोगों की बेरहमी से हत्‍या के अपराध में फांसी की सजा दी गई है।

पढ़ें :- UP News: इटावा में मिट्टी का टीला ढहने से चपेट में आए तीन बच्चों की मौत, सीएम ने जताया दुख

शबनम ने 14-15 अप्रैल 2008 की रात को अपने प्रेमी के साथ मिलकर इस जघन्‍य वारदात को अंजाम दिया। वह जुलाई 2019 से रामपुर की जेल में बंद है। प्रेमी से शादी करने के लिए अपने ही परिवार के सात लोगों को बेरहमी से मौत के घाट उतारने वाली शबनम की फांसी रोकने के लिए पहली मांग अयोध्‍या से उठी है।

तपस्‍वी छावनी के महंत परमहंस दास ने राष्‍ट्रपति से अपील की है कि वे शबनम की फांसी की सजा को माफ कर दें। उन्‍होंने कहा कि एक महिला को फांसी दिए जाने से देश को दुर्भाग्य और आपदाओं का सामना करना पड़ सकता है।

 

पढ़ें :- UP News: यूपी सरकार ने बदला SIT का नाम, जानिए नया नाम
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...