नौतनवा:लाचार महिला को मनबढ़ों ने पीटा, हालत नाजुक जिला अस्पताल रेफर

IMG-20200123-WA0011

संवाददाता-विजय चौरसिया

Nautanwa Helpless Woman Beaten By Mongrels Condition Referred To Fragile District Hospital :

महराजगंज । जिले के थाना कोतवाली नौतनवा चौकी अड्डाबाजार पीड़िता रीता पत्नी स्व रामदास जोकि नौतनवा थाना क्षेत्र की रहने वाली एक अबला औरत है। रीता ने स्थानीय पुलिस स्टेशन को एक प्रार्थना पत्र देकर बताई । प्रार्थना पत्र में उन्होंने लिखा है कि अपने पति के 8 साल गुजर जाने के बाद पीड़िता रीता अपने छोटे छोटे बच्चो को मजदूरी कर के अपना जीवन यापन करती थी । लेकिन उसी गांव का रहने वाला अशोक व उसकी पत्नी व बेटी और अशोक का साला बीते 20/01/2020 को किसी बात को लेकर दिन में पीड़िता के बेटी को अशोक के परिजनों ने काफी सारी भद्दी भद्दी गालिया देने लगे जब यह बात पीड़िता को पता चली तो पीड़िता ने किसी तरीके से उनलोगो माफ़ी मांग कर मामले को सांत किया लेकिन देर रात जब अशोक अपने घर पर आया तो रीता ने लिखा है कि अशोक की पत्नी ने उसको इस घटना की जानकारी दी जानकारी मिलते ही अशोक ने शराब के नशे में धुत पीड़िता रीता को उसके घर में घुस गया और उससे बत्तमीजी से पेस आया और अपने पत्नी व बेटी और साले के मदत से रीता के ऊपर पैर रख कर जान से मारने का प्रयास किया ।

पीड़िता को जब मारते मारते बेहोसी के हालत में मरा जान कर छोड़ सब अपने घर भागे फिर पीड़िता रीता जब होश में आई तो इस घटना की जानकारी अपने नजदीकी पुलिस चौकी अड्डाबाजार में लिखित तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाई जिससे दबंगो को कड़ी से कड़ी सजा मिल सके लेकिन पीड़िता की बात को पुलिस चौकी वालो ने अनसुनी कर दी फिर पीड़िता ने इस घटना की लिखित तहरीर दिनांक 22/01/2020 को नौतनवा थाने में दिया जिसकी सुनवाई हो सके मामले को गंभीरता से देखते हुए नौतनवा इस्पेक्टर ने तुरंत पीड़िता को नौतनवा सरकारी अस्पताल में उपचार के लिए भेजे लेकिन पीड़िता की हालत को गंभीर देखते हुए नौतनवा अस्पताल के डा.सोनकर ने जिला अस्पताल महराजगंज रेफर कर दिया।

संवाददाता-विजय चौरसिया महराजगंज । जिले के थाना कोतवाली नौतनवा चौकी अड्डाबाजार पीड़िता रीता पत्नी स्व रामदास जोकि नौतनवा थाना क्षेत्र की रहने वाली एक अबला औरत है। रीता ने स्थानीय पुलिस स्टेशन को एक प्रार्थना पत्र देकर बताई । प्रार्थना पत्र में उन्होंने लिखा है कि अपने पति के 8 साल गुजर जाने के बाद पीड़िता रीता अपने छोटे छोटे बच्चो को मजदूरी कर के अपना जीवन यापन करती थी । लेकिन उसी गांव का रहने वाला अशोक व उसकी पत्नी व बेटी और अशोक का साला बीते 20/01/2020 को किसी बात को लेकर दिन में पीड़िता के बेटी को अशोक के परिजनों ने काफी सारी भद्दी भद्दी गालिया देने लगे जब यह बात पीड़िता को पता चली तो पीड़िता ने किसी तरीके से उनलोगो माफ़ी मांग कर मामले को सांत किया लेकिन देर रात जब अशोक अपने घर पर आया तो रीता ने लिखा है कि अशोक की पत्नी ने उसको इस घटना की जानकारी दी जानकारी मिलते ही अशोक ने शराब के नशे में धुत पीड़िता रीता को उसके घर में घुस गया और उससे बत्तमीजी से पेस आया और अपने पत्नी व बेटी और साले के मदत से रीता के ऊपर पैर रख कर जान से मारने का प्रयास किया । पीड़िता को जब मारते मारते बेहोसी के हालत में मरा जान कर छोड़ सब अपने घर भागे फिर पीड़िता रीता जब होश में आई तो इस घटना की जानकारी अपने नजदीकी पुलिस चौकी अड्डाबाजार में लिखित तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाई जिससे दबंगो को कड़ी से कड़ी सजा मिल सके लेकिन पीड़िता की बात को पुलिस चौकी वालो ने अनसुनी कर दी फिर पीड़िता ने इस घटना की लिखित तहरीर दिनांक 22/01/2020 को नौतनवा थाने में दिया जिसकी सुनवाई हो सके मामले को गंभीरता से देखते हुए नौतनवा इस्पेक्टर ने तुरंत पीड़िता को नौतनवा सरकारी अस्पताल में उपचार के लिए भेजे लेकिन पीड़िता की हालत को गंभीर देखते हुए नौतनवा अस्पताल के डा.सोनकर ने जिला अस्पताल महराजगंज रेफर कर दिया।