1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. Nautapa 2022 : मई माह में इस दिन से शुरू हो रहा है नौतपा, मांगलिक कार्यों को करने से बचना चाहिए

Nautapa 2022 : मई माह में इस दिन से शुरू हो रहा है नौतपा, मांगलिक कार्यों को करने से बचना चाहिए

गर्मी में सूर्य देव के प्रचण्ड तेज से पशु पछी वनस्पतियों और मानव तपड़ने लगते है। ज्येष्ठ माह के कृष्ण पक्ष में सूर्य भगवान का तेज अपने चरम पर रहता है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

Nautapa 2022:  गर्मी में सूर्य देव के प्रचण्ड तेज से पशु पछी वनस्पतियों और मानव तपड़ने लगते है। ज्येष्ठ माह के कृष्ण पक्ष में सूर्य भगवान का तेज अपने चरम पर रहता है। यह वही समय होता है जब सूर्य भगवान रोहिणी नक्षत्र में आते हैं। सूर्य भगवान के रोहिणी नक्षत्र में आते ही पृथ्वी का तापमान बढ़ जाता है। बता दें कि 14 दिनों के लिए सूर्य भगवान रोहिणी नक्षत्र में गोचर करते हैं लेकिन शुरुआत के 9 दिन सबसे गर्म होते हैं। इस बार नौतपा 25 मई दिन बुधवार से शुरू होकर 2 जून दिन गुरुवार तक रहेगा। नौतपा के समय सूर्य की सीधी किरणें पृथ्वी पर पड़ती हैं। ऐसे मौसम में आंधी और तूफान आने का डर भी ज्यादा रहता है। मान्यता है कि ग्रह एवं नक्षत्र की स्थिति अशुभ मानी जाती है।

पढ़ें :- 27 जून 2022 का पंचांग: जाने आज का पंचांग, शुभ मुहूर्त और नक्षत्र की चाल के बारे में ...

नौतपा 
सूर्य रोहिणी नक्षत्र में प्रवेश करने का समय – 25 मई, दिन बुधवार सुबह 8:16 मिनट
सूर्य का रोहिणी नक्षत्र में गोचर समाप्ति – 8 जून, दिन बुधवार सुबह 6:40 मिनट

1.नौतपा के समय धरती का तापमान बढ़ जाता है, इस स्थिति में यात्रा करने से बचें अन्यथा स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं आ सकती हैं।
2.नौतपा के समय में हल्का और सुपाच्य भोजन करें, जो आसानी से पच सके।
3. इस समय में आपको जल का अधिक सेवन करना चाहिए, ताकि शरीर में जल की कमी न हो।
4. इस समय में पशु पक्षियों के लिए जल की व्यवस्था करें। छत पर या खुले में पक्षियों के लिए दाना पानी रखें। इससे पुण्य मिलता है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...