अब यूपी में ‘खादी’ बनेगा ब्रांड, पहली बार बन रही ग्रामोद्योग के लिये अलग नीति

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के खादी एवं ग्रामोद्योग को मजबूत बनाने के लिए विभाग ने अपना मसौदा तैयार कर लिया है। खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा एक विशेष कार्य योजना तैयार की गई है। इसके तहत विभाग ग्रामीण स्तर तक लोगों को रोजगार के व्यापक अवसर प्रदान करेगा। प्रदेश के खादी एवं ग्रामोद्योग प्रमुख सचिव नवनीत सहगल ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2017-18 में विभाग के लक्ष्यों की पूर्ति गुणवत्तापूर्ण ढ़ंग से प्राप्त करने की व्यवस्था की गई है।

नवनीत सहगल ने बताया, अब खादी को एक ब्रांड बनाया जायेगा। इस ब्रांड से खादी को प्रोत्साहन दिलाया जायेगा। सहगल के मुताबिक, प्रदेश में बन रहे विभिन्न खादी उत्पादों को ई-मार्केट प्लेस पर उपलब्ध कराने की कार्रवाई की जा रही है। जिससे ब्रांडिंग और मार्केटिंग का व्यापक रूप से प्रचार-प्रसार हो सके और बिक्री में गति लाई जा सके।

{ यह भी पढ़ें:- योगी सरकार ने नौकरशाही में किया बड़ा फेरबदल, 44 आईएएस के तबादले }

प्रमुख सचिव के मुताबिक, खादी एवं विलेज इण्डिया कमीशन को उनकी विभिन्न योजनाओं जैसे स्फूर्ति इत्यादि में विस्तृत प्रस्ताव बनाकर भेजा जायेगा। इन्हें स्वीकृत कराकर प्रदेश में तेजी से लागू किया जायेगा। उन्होने बताया, खादी ग्रामोद्योग की योजनाओं के बारे में अधिक से अधिक लोगों को जागरूक करने और स्वरोजगार के प्रति प्रेरित करने के उद्देश्य से राज्य, मण्डल, जनपद तथा राष्ट्रीय स्तर पर प्रदर्शिनियों का आयोजन कराया जायेगा।

पहली बार बन रही ग्रामोद्योग के लिये अलग नीति

{ यह भी पढ़ें:- UP: 20 IAS के कार्यक्षेत्र में फेरबदल, नवनीत सहगल समेत कई प्रतीक्षारत }

ग्रामीण क्षेत्रों में पलायन रोकने के लिये और ग्रामोद्योगों को बढ़ावा देने के लिये प्रदेश में पहली बार ग्रामोद्योग नीति बनाई जा रही है। इसके तहत ग्रामीण क्षेत्रों में ग्रामोद्योग लगाने के लिये वो सभी सहूलियतें मिलेंगी, जो औद्योगिक विकास नीति में बड़े उद्योगों के लिये प्रस्तावित की गयी हैं। इसी के साथ ग्रामोद्योग को रोजगार स्रजन से जोड़ने की कवायद भी की जा रही है।

दीनदयाल सतत रोजगार योजना

ग्रामोद्योग नीति के तहत पंडित दीनदयाल उपाध्याय सतत रोजगार योजना का संचालन किया जाएगा। इसमें उधमियों को प्रधानमंत्री स्वरोजगार योजना की तरह ही इन्सेंटिव दिया जाएगा।

{ यह भी पढ़ें:- इलाज के बाद लखनऊ लौटे नवनीत सहगल, ड्राइवर का मेदान्ता में होगा इलाज }