नवादा में धार्मिक झंडा लगाने को लेकर फिर विवाद, जमकर हुआ पथराव

नवादा: बिहार के नवादा जिला मुख्यालय में धार्मिक पोस्टर फाड़े जाने के बाद से शुरू हुआ विवाद बुधवार को और गहरा हो गया। बुधवार को रामनवमी के दिन एकबार फिर दो पक्षों के बीच पथराव हुआ। पुलिस को भी जमकर लाठियां भांजनी पड़ी। पुलिस के अनुसार, नवादा के न्यू खूरी नदी पुल के पास धार्मिक झंडा फहराए जाने को लेकर दो पक्षों के बीच जमकर पथराव हुआ। इस दौरान करीब आधा दर्जन लोग घायल हो गए। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक इस दौरान बमबारी भी की गई। इसके बाद आक्रोशित लोगों ने कई घरों को क्षतिग्रस्त कर दिया तथा वाहन के शीशे तोड़ डाले।




घटना की सूचना मिलते ही पहुंची पुलिस ने आक्रोशित लोगों को तितर-बितर करने के लिए लाठी चार्ज कर दिया, इसको लेकर अफरा-तफरी की स्थिति उत्पन्न हो गई। इस घटना के बाद शहर की सभी दुकानें पूरी तरह से बंद हो गईं। इसके बाद सड़कों पर सन्नाटा पसर गया। शहर में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) और त्वरित क्रिया बल (रैफ) की तैनाती कर दी गई है।




नवादा के जिलाधिकारी मनोज कुमार और पुलिस अधीक्षक विकास बर्मन खुद शहर में घूम-घूमकर लोगों से शांति बनाए रखने की अपील कर रहे हैं। जिलाधिकारी मनोज कुमार ने बताया कि असामाजिक तत्चों से कड़ाई से निपटने की कारवाई प्रारंभ कर दी गई है। उन्होंने बताया कि कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया गया है। उन्होंने कहा कि स्थिति नियंत्रण में है, परंतु तनाव बना हुआ है।

उल्लेखनीय है कि मंगलवार को शहर के सद्भावना चौक पर धार्मिक पोस्टर फाड़े जाने को लेकर दोनों पक्ष भिड़ गए थे, जिसके बाद शहर का माहौल तानवपूर्ण हो गया था।