नक्सलियों का फरमान, लिया सरकारी मकान तो होगा बुरा अंजाम

Naxalites Give Life Threat To Villagers If Take Government House

रायपुर। छत्तीसगढ़ में नक्सलियों ने ग्रामीणों के खिलाफ तालिबानी फरमान जारी किया है। नक्सलियों ने ग्रामीणों को धमकी दी है कि जिसने भी सरकारी मकान लिया उसकी खैर नहीं।




एक तरफ जहां छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के लिए विरोध अभियान चलाया जा रहा है, वहीं नक्सली अपने लुप्त हो रहे अस्तित्व को वापस लाने के लिए अबूझमाड़ में पूरी तैयारी में लगे हुए है। छत्तीसगढ़ में नक्सली ग्रामीणों को सरकारी योजनाओं से दूर रखने की कोशिश कर रहे हैं।

खबर है कि अबूझमाड़ के लाल गलियारे में नक्सलियों ने नया कानून बनाया है, नक्सलियों ने पैगाम जारी किया है कि सभी ग्रामीणों को प्रधानमंत्री और इंदिरा आवास योजना के तहत मिले सरकारी मकान में रहेगा उसे अपना गाँव छोड़कर जाना होगा।




सूत्रों के अनुसार, नक्सलियों ने पदमकोट, निलागुर, कुतेल, धुरबेड़ा, परपा, कच्चपाल, गोमागाल, टाहकावाड़ा, थुलथुली, नैडनार, कोंगे समेत अन्य गांव के लोगों को गाँव छोड़ने का फरमान सुनाया है।

वहीं जिला प्रशासन ग्रामीणों को आवास उपलब्ध कराने के लिए जियोटेक सर्वे का काम पूरा कर ग्रामीणों का खाता खुलवाने का प्रयास कर रही है। नक्सली बंदिश के बाद से कई गांव के ग्रामीण खाता खुलवाने के लिए जिला मुख्यालय नहीं आ रहे हैं।

रायपुर। छत्तीसगढ़ में नक्सलियों ने ग्रामीणों के खिलाफ तालिबानी फरमान जारी किया है। नक्सलियों ने ग्रामीणों को धमकी दी है कि जिसने भी सरकारी मकान लिया उसकी खैर नहीं। एक तरफ जहां छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के लिए विरोध अभियान चलाया जा रहा है, वहीं नक्सली अपने लुप्त हो रहे अस्तित्व को वापस लाने के लिए अबूझमाड़ में पूरी तैयारी में लगे हुए है। छत्तीसगढ़ में नक्सली ग्रामीणों को सरकारी योजनाओं से दूर रखने की कोशिश कर रहे हैं। खबर है…