1. हिन्दी समाचार
  2. लॉकडाउन से नक्सलियों को खाने के पड़े लाले, लूट रहे हैं ग्रामीणों का राशन

लॉकडाउन से नक्सलियों को खाने के पड़े लाले, लूट रहे हैं ग्रामीणों का राशन

Naxalites Lying In Food Due To Lockdown Looting Villagers Ration

By बलराम सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए 3 मई तक देशव्यापी लॉकडाउन चल रहा है। इस लॉकडाउन का असर छत्तीसगढ़ में नक्सलियों की राशन सप्लाई पर भी पड़ा है। नक्सली संगठन अब राशन के लिए ग्रामीणों पर दबाव बना रहे हैं। इतना ही नहीं वह मौका पाकर लूटपाट से भी बाज नहीं आ रहे हैं। बस्तर क्षेत्र के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के मुताबिक राज्य में लॉकडाउन के दौरान ग्रामीणों को नागरिक आपूर्ति निगम के माध्यम से दो माह का राशन एक साथ दिया गया है। अब नक्सलियों की नजर ग्रामीणों के राशन पर है और वे ग्रामीणों पर राशन देने के लिए दबाव बना रहे हैं।

पढ़ें :- दिल्ली घटना के पीछे काम कर रही है कोई अदृश्य शक्ति, शिवसेना सांसद ने केन्द्र सरकार को ठहराया जिम्मेदार

बस्तर क्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक सुंदरराज पी ने बताया कि लॉकडाउन से आवाजाही पर प्रतिबंध लग गया है, ऐसे में नक्सलियों तक पहुंचने वाले रसद और अन्य सामानों की आपूर्ति पर भी असर पड़ा है। सुंदरराज के अनुसार इसलिए अब उन्हें रोजमर्रा की चीजों को प्राप्त करने के लिए भी चुनौती का सामना करना पड़ रहा है, यही कारण है कि वह अब ग्रामीणों पर इन सामानों के लिए दबाव बना रहे हैं।

उन्होंने बताया कि माओवादियों का स्थानीय कैडर पहले भी ग्रामीणों से राशन लेता रहा है तथा वह अपने लोगों के लिए ग्रामीणों से भोजन बनाने की व्यवस्था भी कराता रहा है। यह केवल 10 से 15 लोगों के लिए होता था। साथ ही, नक्सली अपने बड़े दल के लिए भोजन और अन्य सामानों की व्यवस्था लोगों के माध्यम से ही करते हैं।

उन्होंने कहा कि जब से लॉकडाउन किया गया है बस्तर क्षेत्र के दूरदराज के इलाकों में लगने वाले हाट बाजार भी बंद हो गए हैं। माओवादियों के लिए राशन पहुंचाने वाले लोग इन्हीं बाजारों से उनके लिए राशन की व्यवस्था करते थे। वहीं कुछ अन्य सामानों के लिए वे आसपास के शहरों का रुख करते थे। अब लॉकडाउन के कारण उनका शहर तक पहुंचना मुश्किल हो गया है। इसलिए वह राशन और अन्य सामानों की व्यवस्था के लिए ग्रामीणों और आदिवासियों पर दबाव बना रहे हैं।

दंतेवाड़ा जिले के पुलिस अधीक्षक अभिषेक पल्लव ने बताया कि सुरक्षा बलों को जानकारी मिली है कि कुछ स्थानों पर नक्सलियों ने ग्रामीणों का राशन लूट लिया है। जानकारी के बाद क्षेत्र में नक्सलियों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। पल्लव ने बताया कि पुलिस को जानकारी मिली है कि दंतेवाड़ा जिले के किरंदुल और भांसी थाना क्षेत्र में नक्सलियों ने ग्रामीणों का एक माह का राशन छीन लिया है।

पढ़ें :- ट्रैक्टर रैली में बवाल के बाद गृह मंत्रालय सख्त, दिल्‍ली में तैनात होंगी 15 पैरामिलिट्री जवानों की कंपनियां

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...