बिहार: मसूदन रेलवे स्टेशन पर नक्सलियों का तांडव, दो रेलकर्मियों की हत्या, दो अगवा

bihar

पटना। बिहार के लखीसराय जिले के मसूदन रेलवे स्टेशन पर नक्सलियों ने धावा बोलकर दो रेलकर्मियों को अगवा कर लिया और सिग्नल पैनल में आग लगा दी। इस घटना के बाद इस रेलखंड पर कुछ देर के लिए रेल परिचालन रोक दिया गया हालांकि बाद में परिचालन शुरू कर दिया गया था लेकिन नक्सलियों की धमकी के बाद फिर से भागलपुर-किऊल रेलखंड पर ट्रेनों का परिचालन रोक दिया गया। नक्सली सुरक्षाकर्मियों को जंगल ले गए और गला रेतकर हत्या कर दी।

इस घटना पर पुलिस ने बताया कि करीब 10 से 15 की संख्या में नक्सली आए थे। पुलिस ने यह भी बताया कि कथित प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के हथियारबंद नक्सलियों ने यह हमला किया।

{ यह भी पढ़ें:- नीतीश को कांग्रेस का आॅफर, BJP से नाता तोड़े तो महागठबंधन में हो सकता है शामिल }

पुलिस के अनुसार, हथियारबंद नक्सलियों ने मंगलवार देर रात करीब 12 बजे स्टेशन पर धावा बोला और उसके बाद सिग्नल पैनल में आग लगा दी। इससे रेलवे टेलीफोन व्यवस्था पूरी तरह ठप हो गई। घटना के बाद भागलपुर-किऊल रेलखंड पर ट्रेनों की आवाजाही थोड़ी देर के लिए बाधित रही। हालांकि बाद में सिग्नल पैनल को ठीक कर लिया गया और ट्रेनों की आवजाही शुरू कर दी गई।

रेलवे के अधिकारी ने बताया कि बुधवार सुबह नक्सलियों द्वारा कंट्रोल रूम को फोन कर ट्रेनों के परिचालन किए जाने पर दोनों रेलकर्मियों की हत्या करने और रेलवे स्टेशन को आग के हवाले करने की धमकी दी है, जिसके बाद इस रेलखंड पर ट्रेनों का परिचालन फिर से रोक दिया गया है।

{ यह भी पढ़ें:- नागपुर : BJP कार्यकर्ता समेत परिवार के 4 सदस्यों की हत्या  }

जमालपुर रेल पुलिस अधीक्षक शंकर झा ने बताया कि नक्सली हमले की खबर मिलते ही रेल अधिकारी मौके पर पहुंच गए और इन अगवा कर्मियों को छुड़ाने की कोशिश की जा रही है।

पटना। बिहार के लखीसराय जिले के मसूदन रेलवे स्टेशन पर नक्सलियों ने धावा बोलकर दो रेलकर्मियों को अगवा कर लिया और सिग्नल पैनल में आग लगा दी। इस घटना के बाद इस रेलखंड पर कुछ देर के लिए रेल परिचालन रोक दिया गया हालांकि बाद में परिचालन शुरू कर दिया गया था लेकिन नक्सलियों की धमकी के बाद फिर से भागलपुर-किऊल रेलखंड पर ट्रेनों का परिचालन रोक दिया गया। नक्सली सुरक्षाकर्मियों को जंगल ले गए और गला रेतकर हत्या कर…
Loading...