1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Taliban का समर्थन करने वाले लोगों से सतर्क रहने ही जरूरत : Yogi Adityanath

Taliban का समर्थन करने वाले लोगों से सतर्क रहने ही जरूरत : Yogi Adityanath

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने राजधानी लखनऊ में रविवार को एक सामाजिक सम्मेलन को संबोधित किया । इस दौरान उन्होंने कहा कि 20 वर्ष पहले अफगानिस्तान (Afghanistan) में तालिबानियों ने बुद्व की प्रतिमा को तोप लगाकर उड़ा दिया था, क्योंकि वो भारत की आत्मा को ठेस पहुंचाना चाहते थे, लेकिन वो भूल गए थे कि क्रिया की प्रतिक्रिया होती है। उसके बाद में उसी तालिबान (Taliban) की कितनी दुर्दशा हुई, जब अमेरिका ने ड्रोन से उन पर हमला किया।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने राजधानी लखनऊ में रविवार को एक सामाजिक सम्मेलन को संबोधित किया । इस दौरान उन्होंने कहा कि 20 वर्ष पहले अफगानिस्तान (Afghanistan) में तालिबानियों ने बुद्व की प्रतिमा को तोप लगाकर उड़ा दिया था, क्योंकि वो भारत की आत्मा को ठेस पहुंचाना चाहते थे, लेकिन वो भूल गए थे कि क्रिया की प्रतिक्रिया होती है। उसके बाद में उसी तालिबान (Taliban) की कितनी दुर्दशा हुई, जब अमेरिका (America) ने ड्रोन से उन पर हमला किया। आज भी हमारे देश में बहुत से लोग हैं जो तालिबान (Taliban) का समर्थन कर रहे हैं। तालिबान (Taliban) का समर्थन करने का मतलब महिलाओं का अपमान हैं, भगवान बुद्ध (Lord Buddha) का अपमान है। ऐसे लोगों से सतर्क रहने ही जरूरत है।

पढ़ें :- Gujarat Election 2022: भाजपा को लगा बड़ा झटका, 4 बार के विधायक जय नारायण व्यास कांग्रेस में शामिल

उन्होंने कहा कि भाजपा (BJP) ने जो कहा वो कर के दिखाया है। कश्मीर से धारा 370 (Article 370 from Kashmir) हटाने को कहा था, हटा दिया। अयोध्या में भव्य राम मंदिर (Ram Mandir) बनाने की बात कही थी, आज अयोध्या में भव्य राम मंदिर (Ram Mandir) का निर्माण हो रहा है। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि देश के साथ कितना धोखा हुआ है, जो चंद्रगुप्त मौर्य (Chandra Gupta Mourya) से हारा था। उस सिकंदर (Alexander) को महान बता दिया गया। फिर भी इतिहासकार इस पर मौन साधे हुए हैं। पूरे देश की कम्युनिस्ट और अलगाववाद विचारधारा उत्तर प्रदेश में आ चुकी है। वो पूरे देश को गुमराह करना चाहते हैं, इनसे सतर्क रहने की जरूरत है।

पढ़ें :- UP News: नवगठित कमिश्नरेट में अफसरों की तीन दिन बाद भी तैनाती नहीं, कई बैठकों के बाद भी नहीं हुआ निर्णय

यूपी में बदलाव (Change in UP) का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि 2014 से पहले आवास योजना का लाभ चेहरा देखकर मिलता था। सत्ता से संबंधित हैं, विधायक आपकी जाति का है, तो ही उसका लाभ मिलता था। लेकिन आज बड़ी संख्या में गरीबों को बिना भेदभाव के आवास दिया जा रहा है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...