1. हिन्दी समाचार
  2. सोनौली नो मेंस लैंड के हेल्थ डेस्क पर नेपाल ने तैनात की आर्मी

सोनौली नो मेंस लैंड के हेल्थ डेस्क पर नेपाल ने तैनात की आर्मी

Nepal Deploys Army At Sonoli No Mens Lands Health Desk

By विजय चौरसिया 
Updated Date

सोनौली । नेपाल ने सोनौली सीमा पर आर्मी तैनात कर दी है। सेना के जवान हेल्थ डेस्क पर तैनात किए गए हैं। इनमें डॉक्टर भी नेपाली आर्मी के हैं। पहली बार सोनौली सीमा 24 घंटे नेपाली आर्मी की निगरानी में रहेगी। हालांकि, नेपाल प्रशासन के अफसर इसकी वजह कोरोना का फैलाव बता रहे हैं। उनका कहना है कि भारतीय क्षेत्र से आने वाले सभी लोगों का नेपाली आर्मी पूरा विवरण रखेगी।

पढ़ें :- श्मशान घाट में महिलाएं करती हैं लाशों का अंतिम संस्कार, चिता जलाकर पाल रहीं हैं परिवार का पेट

इंडो-नेपाल की सोनौली सीमा पर गुरुवार को नेपाल की हेल्थ हेल्प डेस्क पर नेपाली सेना के 12 जवानों की ड्यूटी लगा दी गई। जवान दिन-रात यहां ड्यूटी करेंगे। सोनौली के अलावा बढ़नी समेत अन्य रास्तों पर भी नेपाल सेना का परिचालन किया जा रहा है। बता दें कि लिपुलेख प्रकरण के बाद नेपाल मंत्रिमंडल ने इंडो-नेपाल सीमा पर सेना के परिचालन की बात कही थी। जानकारों का कहना है कि नेपाल दबाव बनाने के लिए नेपाली सेना को कोरोना के बहाने सीमा पर लगा रहा है। नौतनवा के सीओ राजू कुमार साव का कहना है कि नेपाल के अधिकारियों ने बताया है कि सेना की मेडिकल टीम को कोरोना के कारण लगाया गया है।

कोरोना की रोकथाम ही मकसद

नेपाल के रुपनदेही के सीडीओ महादेव पंत ने कहा कि कोरोना के कारण सीमा पर सेना का परिचालन किया गया है। वहां नेपाली आर्मी के डॉक्टरों की टीम भी रहेगी। टीम भारत से आने वाले सभी यात्रियों का विवरण भी रखेगी। उन्होंने बताया कि नेपाल में तेजी से हो रहे कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिए ऐसा किया गया है।

पढ़ें :- कोरोना संकट के कारण इस बार नहीं सजेंगे दुर्गा पूजा के पंडाल, सीएम ने कहा-घर में स्थापित करें मां की मूर्ति

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...