नेपाल पीएम का भारत दौरा: भारतीय करेंसी को कैसे वापस करेंगे PM मोदी-RBI, क्या जवाब देगी सरकार?

nepal pm oli
नेपाल प्रधानमंत्री

Nepal Prime Minister Kp Sharma Oli Coming To Three Days India Visit

नई दिल्ली। नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली तीन दिवसीय भारत यात्रा पर हैं। पद ग्रहण करने के बाद पीएम केपी शर्मा की यह पहली विदेश यात्रा है। कहा जा रहा है कि पीएम ओली अपनी इस यात्रा के दौरान नवंबर 2016 में भारत में बंद हुए 500 और 1000 के पुराने नोटों को बदलने की फिर से मांग उठा सकते हैं।

कयास लगाये जा रहे हैं कि नोटबंदी के बाद नेपाल के पास करीब 9.5 अरब मूल्य के 500 आैर 1000 रुपये के पुराने नोट पड़े हुए हैं, जिसे बदलने पर वे जोर डाल सकते हैं। इन नोटों के नहीं बदले जाने की वजह से नेपाल को आर्थिक तौर पर काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है। सूत्रों का कहना है कि उनकी इस यात्रा की सबसे बड़ी वजह ही यही है कि वे अपने यहां जमा भारतीय मुद्रा को भुना सकें. एेसे में सवाल यह भी पैदा होता है कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उनकी बात को स्वीकार कर सकेंगे?

भारत में नोटबंदी के बाद आरबीआई के पास पूरी रकम वापस आ चुकी है। रकम की गिनती भी हो चुकी है और नकली नोट भी पहचान कर हटा दिए गए हैं आरबीआई के पास अब ऐसा कोई पैसा नहीं बचा है जो वापस आना था। यानी 500 और हज़ार के जितने नोट छपे थे सभी बैंकों में वापस आ गए हैं। फिर ये साढ़े 9 अरब रुपये कहां से आए। अगर मोदी सरकरा नेपाल से अपने पुराने नोट वापस लेती है तो सवाल फिर से खड़ा हो जाएगा कि ये पैसे कहां से आए।

नेपाल के पास करीब साढ़े नौ अरब कीमत के पुराने नोट हैं। भारत की नोटबंदी को लेकर प्रधानमंत्री ओली ने कहा, “भारत में हुई नोटबंदी से नेपाली नागरिकों को नुकसान हुआ है। मैं भारतीय नेताओं के साथ मुलाकात के दौरान ये मुद्दा उठाऊंगा। मैं कहूंगा कि वे इस मामले को सुलझाएं।”

नई दिल्ली। नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली तीन दिवसीय भारत यात्रा पर हैं। पद ग्रहण करने के बाद पीएम केपी शर्मा की यह पहली विदेश यात्रा है। कहा जा रहा है कि पीएम ओली अपनी इस यात्रा के दौरान नवंबर 2016 में भारत में बंद हुए 500 और 1000 के पुराने नोटों को बदलने की फिर से मांग उठा सकते हैं। कयास लगाये जा रहे हैं कि नोटबंदी के बाद नेपाल के पास करीब 9.5 अरब मूल्य के 500…