नौतनवा के क्वारंटीन सेंटर में नेपाली नागरिक की मौत, हंगामा

VideoCapture_20200523-170929

Nepalese Citizen Dies In Quarantine Center Of Nautanwa Uproar

नौतनवा । महराजगंज के नौतनवा स्थित एक कालेज में बनाए गए क्वारंटीन सेंटर में शनिवार की सुबह एक नेपाली नागरिक की मौत हो गई। यह नागरिक यहां 18 मई को क्वारंटीन किया गया था।
शुक्रवार को उसकी तबीयत खराब होने पर उसे जिला अस्पताल लाकर इलाज कराया गया। इलाज के बाद उसे फिर क्वारंटीन सेंटर भेज दिया गया, जहां शनिवार की सुबह उसकी मौत हो गई। उसकी मौत के बाद सेंटर में रह रहे नेपाली नागरिकों ने हंगामा शुरू कर दिया, जिसे प्रशासन की टीम ने किसी तरह संभाला। इसकी सूचना नेपाली प्रशासन को दे दी गई है।
पुलिस प्रशासन के अनुसार नेपाली नागरिक 32 वर्षीय देव बहादुर की तबीयत शुक्रवार को खराब हुई थी। तबीयत खराब होने के बाद उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल पहुंचाया गया। जिला अस्पताल से इलाज के बाद शुक्रवार की देर शाम उसे फिर क्वारंटीन सेंटर पहुंचाया गया। वह अलीगढ़ से आया था और स्थानीय प्रशासन ने उसे 18 मई की शाम को नौतनवा के एक कालेज के क्वारंटीन सेंटर में क्वारंटीन किया था।
शनिवार की सुबह उसकी मौत के बाद प्रशासनिक अधिकारियों ने घटना की जानकारी नेपाली प्रशासन को दे दिया।
एसओ परमाशंकर यादव का कहना है कि शनिवार की सुबह नेपाली नागरिक की मौत के बाद कुछ नेपाली नागरिक विरोध जताने लगे। सभी को समझाकर शांत कर दिया गया है। घटना की सूचना नेपाल प्रशासन के जिम्मेदारों को दे दी गई है।

नौतनवा । महराजगंज के नौतनवा स्थित एक कालेज में बनाए गए क्वारंटीन सेंटर में शनिवार की सुबह एक नेपाली नागरिक की मौत हो गई। यह नागरिक यहां 18 मई को क्वारंटीन किया गया था। शुक्रवार को उसकी तबीयत खराब होने पर उसे जिला अस्पताल लाकर इलाज कराया गया। इलाज के बाद उसे फिर क्वारंटीन सेंटर भेज दिया गया, जहां शनिवार की सुबह उसकी मौत हो गई। उसकी मौत के बाद सेंटर में रह रहे नेपाली नागरिकों ने हंगामा शुरू कर दिया, जिसे प्रशासन की टीम ने किसी तरह संभाला। इसकी सूचना नेपाली प्रशासन को दे दी गई है। पुलिस प्रशासन के अनुसार नेपाली नागरिक 32 वर्षीय देव बहादुर की तबीयत शुक्रवार को खराब हुई थी। तबीयत खराब होने के बाद उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल पहुंचाया गया। जिला अस्पताल से इलाज के बाद शुक्रवार की देर शाम उसे फिर क्वारंटीन सेंटर पहुंचाया गया। वह अलीगढ़ से आया था और स्थानीय प्रशासन ने उसे 18 मई की शाम को नौतनवा के एक कालेज के क्वारंटीन सेंटर में क्वारंटीन किया था। शनिवार की सुबह उसकी मौत के बाद प्रशासनिक अधिकारियों ने घटना की जानकारी नेपाली प्रशासन को दे दिया। एसओ परमाशंकर यादव का कहना है कि शनिवार की सुबह नेपाली नागरिक की मौत के बाद कुछ नेपाली नागरिक विरोध जताने लगे। सभी को समझाकर शांत कर दिया गया है। घटना की सूचना नेपाल प्रशासन के जिम्मेदारों को दे दी गई है।