1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. New CM of Karnataka announced today, बीजेपी ने केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और जी किशन रेड्डी बनाया ऑब्जर्वर

New CM of Karnataka announced today, बीजेपी ने केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और जी किशन रेड्डी बनाया ऑब्जर्वर

कर्नाटक ( Karnatka ) के मुख्यमंत्री पद (chief minister post) से बीते सोमवार को बीएस येदियुरप्पा ( BS Yediyurappa ) ने इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद अब हर किसी की नजरे प्रदेश के नए मुख्यमंत्री के नाम के एलान पर टिकी हैं। बेंगलूरु में मंगलवार को बीजेपी विधायक दल (BJP Legislature Party) बैठक बुलाई गई है। ऐसे में माना जा रहा है कि इस बैठक में सीएम के नए नाम पर मुहर लग सकती है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। New CM of Karnataka announced today कर्नाटक ( Karnatka ) के मुख्यमंत्री पद (chief minister post) से बीते सोमवार को बीएस येदियुरप्पा ( BS Yediyurappa ) ने इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद अब हर किसी की नजरे प्रदेश के नए मुख्यमंत्री के नाम के एलान पर टिकी हैं। बेंगलूरु में मंगलवार को बीजेपी विधायक दल (BJP Legislature Party) बैठक बुलाई गई है। ऐसे में माना जा रहा है कि इस बैठक में सीएम के नए नाम पर मुहर लग सकती है।

पढ़ें :- आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा काट सकती है विधायकों के टिकट, ढूंढा सत्ता विरोधी लहर की काट
Jai Ho India App Panchang

कर्नाटक में नए मुख्यमंत्री के चयन के लिए बीजेपी आलाकमान (BJP high command)  ने दो पर्यवेक्षकों नियुक्त किए हैं। इनमें एक केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान (Union Ministers Dharmendra Pradhan) और दूसरे जी किशन रेड्डी (G Kishan Reddy) शामिल हैं।

बीएस येदियुरप्पा के बाद अब कर्नाटक की कमान किसके हाथ होगी? इसको लेकर भी राजनीतिक गलियारों में चर्चा तेजी से जारी हैं। पार्टी सूत्रों की मानें तो बीजेपी के लिए जरूरी है कि लिंगायत अनुपात के साथ अन्य वर्गों को साधने वाले नेता का चयन किया जा सकता है।

बीजेपी नहीं चाहती कि किसी सांसद को सीएम बनाकर उपचुनाव करवाया जाए

कर्नाटक के अगले मुख्यमंत्री के तौर पर खनन मंत्री मुरुगेश निरानी, प्रहलाद जोशी, बीजेपी के महासचिव सीटी रवि, बीएल संतोष और प्रदेश के गृह मंत्री बासवराज का नाम प्रमुख रूप से शामिल है।

पढ़ें :- Uma Bharti का विवादित बयान, बोलीं- ब्यूरोक्रेसी की औकात क्या , ये उठाती है हमारी चप्पल

चुने गए नामों को मंजूरी के लिए बीजेपी के संसदीय बोर्ड (BJP parliamentry board meeting) को सूचित किया जाएगा।  पार्टी सूत्रों ने बताया कि नए मुख्यमंत्री के चयन को लेकर बीजेपी आलाकमान विधायक को ही मौका देने पर विचार कर रहा है। बता दें कि बीजेपी नहीं चाहती कि किसी सांसद को सीएम बनाकर उपचुनाव करवाया जाए।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...