1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. चार धाम यात्रा को उत्तराखंड सरकार ने स्थगित किया ,16 जून के बाद फिर करेगी विचार

चार धाम यात्रा को उत्तराखंड सरकार ने स्थगित किया ,16 जून के बाद फिर करेगी विचार

पवित्र चार धाम यात्रा को एक बार फिर उत्तराखंड सरकार ने स्थगित कर दिया है।  यात्रा स्थगित किए जाने के पीछे प्रदेश सरकार ने वजह भी बताई है। उत्तराखंड मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा, चार धाम यात्रा को लेकर नैनीताल हाई कोर्ट में सुनवाई चल रही है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

देहरादूनः पवित्र चार धाम यात्रा को एक बार फिर उत्तराखंड सरकार ने स्थगित कर दिया है। यात्रा स्थगित किए जाने के पीछे प्रदेश सरकार ने वजह भी बताई है। उत्तराखंड मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा, चार धाम यात्रा को लेकर नैनीताल हाई कोर्ट में सुनवाई चल रही है। 16 जून के बाद राज्य सरकार यात्रा खोलने पर फिर से विचार करेगी। उत्तराखंड में बेशक कोरोना संक्रमण नियंत्रण में है, लेकिन उस पर पूरी तरह काबू पाने के लिए यहां 22 जून की सुबह तक लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है। हालांकि कुछ पाबंदियों के साथ चार धाम यात्रा खोलने की अनुमति दी गई थी, लेकिन उसे भी अब रोक दिया गया है।

पढ़ें :- पंजाब के नाराज विधायकों को हरीश रावत की दो टूक, बोले- कैप्टन के नेतृत्व में ही लड़ा जाएगा चुनाव
Jai Ho India App Panchang

राज्य में अनलॉक की प्रक्रिया चरणबद्ध तरीके से हो रही है। इसी को ध्यान में रखते हुए चारधाम यात्रा केवल जिला स्तर पर खोलने का निर्णय लिया गया था। यानी दूसरे राज्यों और राज्य के दूसरे जिलों के लोग यहां नहीं आ सकते थे। जैसे-बद्रीनाथ धाम की यात्रा में चमोली जिले के लोगों, केदारनाथ धाम की यात्रा रुद्रप्रयाग ज़िले और गंगोत्री व यमुनोत्री धाम की यात्रा केवल उत्तरकाशी जिले के लोगों को ही प्रवेश दिए जाने का फैसला हुआ था। यात्रियों के पास कोविड की आरटी पीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट होना अनिवार्य की गई थी, लेकिन अब यह अनुमति कैंसल कर दी है।

राज्य में संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए 25 अप्रैल से कोविड कर्फ्यू की शुरुआत हुई थी। इसमें शहरी क्षेत्रों में नाइट कर्फ्यू लगाया गया था, लेकिन 11 मई से पूरे राज्य में यह लागू कर दिया गया था। अभी मार्केट कुछ पाबंदियों के साथ हफ्ते में तीन दिन खुल रहे हैं। सिर्फ मिठाइयों की दुकानें हफ्ते में पांच दिन खोले जाने की छूट है। वहीं, शादियों में अब बीस के बजाय पचास लोग शामिल हो सकते हैं। हालांकि सभी मेहमानों के लिए आरटी पीसीआर की नेगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...