1. हिन्दी समाचार
  2. मोदी सरकार की नई नीति, अब मोबाइल की तरह बदल सकेंगे बिजली कंपनियां

मोदी सरकार की नई नीति, अब मोबाइल की तरह बदल सकेंगे बिजली कंपनियां

By आस्था सिंह 
Updated Date

New Plan Of Modi Government Electricity Companies Will Be Able To Change Like Mobile

नई दिल्ली। देश को 24 घंटे बिजली से जगमगाने का वादा कर चुकी केंद्र सरकार अब जल्द ही बिजली उपभोक्ताओं को एक और तोहफा देने कि तैयारी में है। खबर आ रही है कि मोदी सरकार अब हर राज्य में चार से पांच कंपनियों को बिजली वितरण लाइसेंस (Electricity Distribution License) देने की योजना बना रही है। इसके अलावा उपभोक्ताओं के पास यह सुविधा भी होगी कि वह किस कंपनी से बिजली लेना चाहते हैं। यानि अब उपभोक्ता कभी भी अपनी बिजली वितरण कंपनी को बदल भी सकते हैं।

पढ़ें :- Lamborghini ने इलेक्ट्रिक वाहनों की योजना किया ऐलान, पहली इलेक्ट्रिक सुपरकार को 2030 तक किया जाएगा पेश

केंद्रीय बिजली मंत्री आरके सिंह ने शुक्रवार को केवडिया शहर में राज्यों के विद्यूत एवं अक्षय ऊर्जा मंत्रियों के सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि रिटेल बिजनेस सरकार का काम नहीं है। उन्होंने आगे कहा कि सभी राज्यों में केंद्र सरकार तीन से चार छोटी निजी कंपनियां तय करेगी और ये कंपनियां उस क्षेत्र में बिजली सप्लाई करेंगी।

बता दें कि केंद्रीय बिजली मंत्री ने नाराजगी जताते हुए बिजली की अधिक कीमतों पर कहा कि कुछ राज्यों में बिजली की दर आठ रुपये प्रति यूनिट है, जबकि बिजली वितरण कंपनियां इससे काफी कम दाम में उपभोक्ताओं तक बिजली आपूर्ति कर रही हैं। बैठक में पूरे देश में बिजली की दर प्रति यूनिट एक समान करने का भी सुझाव दिया गया है। इस पर बिजली मंत्री ने कहा कि हम इस पर विचार कर रहे हैं और जल्द ही निर्णय लिया जा सकता है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X