दिल्ली को धुंध से बचाने के लिए NGT ने बन्द करवाए कारखाने और निर्माण कार्य

दिल्ली में नहीं लागू होगा आॅड-ईवन, NGT की शर्तों पर रजामंद नहीं केजरीवाल सरकार

नई दिल्ली। राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण(NGT) ने दिल्ली व राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (NCR) में वायु प्रदूषण पर नियंत्रण को लेकर गुरुवार को सख्ती दिखाई। एनजीटी ने एनसीआर के सभी प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को क्षेत्र में सभी औद्योगिक व निर्माण संबंधी गतिविधियों पर 14 नवंबर तक रोक लगाने को कहा है. साथ ही, दिल्ली सरकार को हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल कर संवदेनशील जगहों पर पानी छिड़कने का निर्देश दिया है।

इसके साथ ही एनजीटी ने एनसीआर में निर्माण सामग्री लेकर आने वाले ट्रकों के प्रवेश पर भी प्रतिबंध लगा दिया है। कोर्ट ने दिल्ली सरकार को वायु में पीएम 10 की मात्रा 600 से ज्यादा होने वाली संवेदनशील जगहों को चिन्हित कर धूल के कणों के स्तर को कम करने के लिए हेलिकॉप्टर की मदद से छिड़काव करवाने के निर्देश दिए हैं।

{ यह भी पढ़ें:- अंतर्राष्ट्रीय मुक्केबाज चैंपियन जीतेंद्र मान की हत्या, फ्लैट में मिला शव }

एनजीटी के जज जस्टिस स्वतंत्र कुमार ने सरकार से कहा, “आवश्यकता पड़ने पर अग्निशमन दस्ते की भी मदद ली जाए। राजधानी क्षेत्र में कहीं भी आग लगने की सूचना मिले उसे तुरंत बुझाए जाने के प्रबंध किए जाएं।”

{ यह भी पढ़ें:- NGT आदेश: अमरनाथ यात्रा के दौरान जयकारे और मोबाइल पर रोक }

Loading...