NGT ने लगाई सम-विषम योजना पर मुहर, जानिये किसे मिलेगी रियायत

नई दिल्ली। दिल्ली में 13 से 17 नवंबर तक सम-विषम योजना चलाने को लेकर राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) ने शनिवार को मंजूरी दे दी। एनजीटी ने इस योजना को मंजूरी देते हुए कहा, इससे महिलाओं, दोपहिया वाहनों और सरकारी कर्मचारियों को किसी तरह की रियायत नहीं दी जाएगी।

एनजीटी ने यह भी कहा कि भविष्य में पीएम2.5 का स्तर 300 से ऊपर और पीएम10 का स्तर 500 से ऊपर होने की स्थिति में सम-विषम योजना स्वचालित रूप से लागू हो जाएगी।

{ यह भी पढ़ें:- दिल्ली: बवाना की पटाखा फैक्ट्री में भीषण आग से 17 की मौत, कई गंभीर }

एनजीटी ने कहा है कि इस योजना के तहत केवल आपातकालीन वाहनों को ही छूट दी जाएगी। डीडीए का प्रतिनिधित्व करने वाले वकील राजीव बंसल ने फैसला आने के बाद बताया, ‘एनजीटी ने आज अपने आदेश में कहा कि अगर भविष्य में पीएम2.5 का स्तर 300 से ऊपर और पीएम10 का स्तर 500 से अधिक होता है तो सम-विषम योजना स्वचालित रूप से लागू हो जाएगी।’

बंसल ने कहा, प्राधिकरण ने यह भी कहा कि इस योजना के तहत वीआईपी वाहनों, महिलाओं या सरकारी कर्मचारियों को किसी तरह की रियायत नहीं दी जाएगी। उन्होंने कहा, केवल दमकल गाड़ियों, एम्बुलेंस और ठोस अपशिष्ट ले जाने वाले वाहनों जैसे आपातकालीन वाहनों को ही छूट दी जाएगी।

{ यह भी पढ़ें:- क्या सरकार और कुर्सी बचा पाएंगे मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल }

Loading...