तमिलनाडु में आतंकियों की तलाश जारी, 5 जगह NIA की छापेमारी

nia
तमिलनाडु में आतंकियों की तलाश जारी, 5 जगह NIA की छापेमारी

नई दिल्ली। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने तमिलनाडु में कई जगहों पर छापोमारी की है। एनआईए ने कोयम्बटूर में 5 स्थानों पर छापे मारी कर रही है। इस दौरान लैपटॉप, मोबाइल फोन, सिम कार्ड और पेन-ड्राइव जब्त किए गए है। जिन पांच लोगों के घर पर छापेमारी की जा रही है एनआइए ने उनपर पहले से ही नजर रखी हुई थी। जानकारी के मुताबिक आतंकवादियों के घुसपैठ पर ये कार्रवाई की गई है।

Nia Raids Underway At 5 Locations In Coimbatoretamil Nadu :

खुफिया एजेंसियों के मुताबिक ये सभी आतंकी श्रीलंका (Sri Lanka) के रास्ते भारत (INDIA) में दाखिल हुए हैं। इन आतंकियों में एक पाकिस्तानी (Pakistan) नागरिक और पांच श्रीलंकाई (sri lanka) तमिल बताए जा रहे हैं। सुरक्षा एजेंसियों से मिले इनपुट के बाद चेन्नई समेत कई जगहों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

सुरक्षा एजेंसियों के इनपुट के मुताबिक तमिलनाडु में दाखिल हुए इन सभी लश्कर आतंकियों ने पुलिस से बचने के लिए हिंदुओं की तरह वेशभूषा धारण की थी। आतंकवादियों ने तिलक और भभूत का भी इस्तेमाल किया था। आतंकियों के तमिलनाडु में दखिल होने की खबर के साथ ही डीजीपी ने सुरक्षा को लेकर नई गाइड लाइन जारी कर दी थी और आतंकियों को पकड़ने के लिए कई जगह पर छापेमारी भी की जा रही थी।

जून में कोयंबटूर में 7 जगहों परल छापेमारी की गई थी

एनआईए ने कहा था कि जांच के दौरान मिले साक्ष्य को सत्यापित करने के लिए आरोपियों को विभिन्न स्थानों पर ले जाने की जरूरत है। इससे पहले एनआईए ने जून में आईएस तमिलनाडु मॉड्यूल के कथित मास्टरमाइंड मोहम्मद अजरुद्दीन को गिरफ्तार किया था। अजरुद्दीन श्रीलंकाई आत्मघाती हमलावर जहरान हाशिम का फेसबुक दोस्त था। कोयंबटूर के सात जगहों पर तलाशी लेने के बाद उसे गिरफ्तार किया गया था।

क्या है अंसारूल्लाह मामला

अंसारूल्लाह नामक आतंकी संगठन पर भारत के खिलाफ युद्ध छेड़ने की साजिश रचने का आरोप है। इससे पहले एनआईए ने अंसारूल्लाह से जुड़े मोहम्मद बुखारी के चेन्नई स्थित आवास और दफ्तर में छापेमारी की थी। पिछले साल एनआईए ने उत्तर प्रदेश और दिल्ली पुलिस के साथ अमरोहा, दिल्ली तथा देश के अन्य इलाकों में छापेमारी की थी। एनआईए के अनुसार, जांच के दौरान यह पाया गया था कि मॉड्यूल में शामिल आरोपी दिल्ली और इसके आसपास भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर फिदायीन हमला करने की साजिश रच रहे थे।

नई दिल्ली। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने तमिलनाडु में कई जगहों पर छापोमारी की है। एनआईए ने कोयम्बटूर में 5 स्थानों पर छापे मारी कर रही है। इस दौरान लैपटॉप, मोबाइल फोन, सिम कार्ड और पेन-ड्राइव जब्त किए गए है। जिन पांच लोगों के घर पर छापेमारी की जा रही है एनआइए ने उनपर पहले से ही नजर रखी हुई थी। जानकारी के मुताबिक आतंकवादियों के घुसपैठ पर ये कार्रवाई की गई है। खुफिया एजेंसियों के मुताबिक ये सभी आतंकी श्रीलंका (Sri Lanka) के रास्ते भारत (INDIA) में दाखिल हुए हैं। इन आतंकियों में एक पाकिस्तानी (Pakistan) नागरिक और पांच श्रीलंकाई (sri lanka) तमिल बताए जा रहे हैं। सुरक्षा एजेंसियों से मिले इनपुट के बाद चेन्नई समेत कई जगहों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। सुरक्षा एजेंसियों के इनपुट के मुताबिक तमिलनाडु में दाखिल हुए इन सभी लश्कर आतंकियों ने पुलिस से बचने के लिए हिंदुओं की तरह वेशभूषा धारण की थी। आतंकवादियों ने तिलक और भभूत का भी इस्तेमाल किया था। आतंकियों के तमिलनाडु में दखिल होने की खबर के साथ ही डीजीपी ने सुरक्षा को लेकर नई गाइड लाइन जारी कर दी थी और आतंकियों को पकड़ने के लिए कई जगह पर छापेमारी भी की जा रही थी। जून में कोयंबटूर में 7 जगहों परल छापेमारी की गई थी एनआईए ने कहा था कि जांच के दौरान मिले साक्ष्य को सत्यापित करने के लिए आरोपियों को विभिन्न स्थानों पर ले जाने की जरूरत है। इससे पहले एनआईए ने जून में आईएस तमिलनाडु मॉड्यूल के कथित मास्टरमाइंड मोहम्मद अजरुद्दीन को गिरफ्तार किया था। अजरुद्दीन श्रीलंकाई आत्मघाती हमलावर जहरान हाशिम का फेसबुक दोस्त था। कोयंबटूर के सात जगहों पर तलाशी लेने के बाद उसे गिरफ्तार किया गया था। क्या है अंसारूल्लाह मामला अंसारूल्लाह नामक आतंकी संगठन पर भारत के खिलाफ युद्ध छेड़ने की साजिश रचने का आरोप है। इससे पहले एनआईए ने अंसारूल्लाह से जुड़े मोहम्मद बुखारी के चेन्नई स्थित आवास और दफ्तर में छापेमारी की थी। पिछले साल एनआईए ने उत्तर प्रदेश और दिल्ली पुलिस के साथ अमरोहा, दिल्ली तथा देश के अन्य इलाकों में छापेमारी की थी। एनआईए के अनुसार, जांच के दौरान यह पाया गया था कि मॉड्यूल में शामिल आरोपी दिल्ली और इसके आसपास भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर फिदायीन हमला करने की साजिश रच रहे थे।