1. हिन्दी समाचार
  2. नीरव मोदी ने कहा- अगर मुझे भारत को सौंपा गया तो आत्महत्या कर लूंगा

नीरव मोदी ने कहा- अगर मुझे भारत को सौंपा गया तो आत्महत्या कर लूंगा

Nirav Modi Said If I Am Assigned To India I Will Commit Suicide

By रवि तिवारी 
Updated Date

नई दिल्ली। पंजाब नेशनल बैंक (PNB) धोखाधड़ी (Fraud) मामले के मुख्‍य आरोपी और भगोड़ा घोषित हो चुके हीरा कारोबारी नीरव मोदी (Nirav Modi) की जमानत याचिका एक बार फिर यूके की अदालत में खारिज कर दी गई है। जिसके बाद नीरव मोदी ने कोर्ट में कहा कि अगर मुझे भारत को प्रत्यर्पित किया गया तो मैं आत्महत्या कर लूंगा। नीरव मोदी ने कोर्ट में कहा कि उसे जेल में तीन बार पीटा गया है। नीरव मोदी की इन तमाम दलीलों का कोर्ट पर कोई भी असर नहीं हुआ और उसकी जमानत याचिका को कोर्ट ने खारिज कर दिया।

पढ़ें :- ट्रैक्टर रैली के दौरान अगर छूटी है आपकी ट्रेन तो रेलवे ने किया बड़ा ऐलान, जानिए...

पांचवी बार कोर्ट ने खारिज की याचिका

इतना ही नहीं नीरव मोदी ने ये भी कहा कि उसे तीन बार जेल में पीटा गया है। कोर्ट ने फिर भी नीरव मोदी की दलील नहीं सुनी और उसकी याचिका को खारिज कर दिया। नीरव मोदी ने ये पांचवी बार जमानत के लिए अपील की थी। नीरव मोदी पंजाब नैशनल बैंक से जुड़े करोंड़ो रुपये की धोखाधड़ी और मनी लांड्रिंग मामले में भारत को प्रत्यर्पित किए जाने के खिलाफ मुकदमा लड़ रहा है।

जेल के भीतर पीटा गया

नीरव मोदी के वकील कीथ ने कोर्ट में दावा किया कि उसके मुवक्किल को जेल में तीन बार पीटा गया। उसे हाल ही में मंगलवार को जेल में पीटा गया। कीथ ने कहा कि जेल के भीतर दो अन्य कैदी नीरव की सेल में आए और उन्हें मुक्का मारकर नीरव मोदी को गिरा दिया, जिसके बाद इन लोगों ने उसे लातों से पीटा। यही नहीं इन लोगों ने नीरव मोदी के साथ लूटपाट भी करने की कोशिश की। जिस वक्त यह घटना हुई उस वक्त नीरव मोदी फोन पर बात कर रहा था।

पढ़ें :- होटल में एंट्री लेने से पहले भारतीय खिलाड़ियों को करना होगा ये जरूरी काम

नीरव मोदी को 19 मार्च को गिरफ्तार किया गया था

इसके बाद नीरव मोदी ने अपनी बात कोर्ट में रखते हुए कहा कि अगर उसे भारत भेजे जाने का फैसला दिया गया तो वह खुद को खत्म कर लेगा। नीरव ने कहा कि उसे भारत में निष्पक्ष ट्रायल की उम्मीद नहीं है।

गौरतलब है कि नीरव मोदी को 19 मार्च को गिरफ्तार किया गया था। तब से वह दक्षिण-पश्चिम लंदन की वैंड्सवर्थ जेल में कैद है। भारत सरकार के अनुरोध पर स्कॉटलैंड यार्ड (लंदन पुलिस) ने प्रत्यर्पण वारंट की तामील करते हुए उसे गिरफ्तार किया था।  

 

पढ़ें :- दिल्ली घटना के पीछे काम कर रही है कोई अदृश्य शक्ति, शिवसेना सांसद ने केन्द्र सरकार को ठहराया जिम्मेदार

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...