निर्भया केस: दोषी अक्षय की पत्नी कोर्ट के सामने हुई बेहोश, कल होनी है फांसी

nirbhaya case
निर्भया केस: दोषी अक्षय की पत्नी कोर्ट के सामने हुई बेहोश, कल होनी है फांसी

नई दिल्ली। निर्भया केस के चारों दोषियों की कल फांसी होनी है, वहीं आज कोर्ट में मामले को लेकर सुनवाई होनी थी तो कोर्ट के सामने ही दोषी अक्षय की पत्नी बेहोश हो गयी। बता दें कि फांसी से एक दिन पहले दोषी अक्षय की पत्नी को तलाक देने की याचिका पर कोर्ट में सुनवाई होनी थी लेकिन उसकी पत्नी पुनीता कोर्ट नही पंहुच पाई बल्कि बाहर ही बेहोश हो गयी।

Nirbhaya Case Akshays Wife Unconscious Before Court To Be Hanged Tomorrow :

बता दें कि निर्भया केस के चारों दोषियों की फांसी के लिए तीन बार डेथ वारंट रद्द हो चुके हैं। हर बार दोषियों की तरफ से कानूनी दांव पेंच खेलकर फांसी की तारीख टलवा दी गयी लेकिन इस बार दोषियों के पास कोई बड़ा विकल्प नही बचा है। हालांकि अक्षय की तरफ से कानूनी दांव खेलते हुए पत्नी को तलाक देने की याचिका डाली गयी थी, आज सुनवाई होनी थी तो पत्नी बाहर बेहोश हो गयी। अब सुनवाई 24 मार्च तक स्थगित कर ​दी गयी है, वहीं कल सभी दोषियों को फांसी होनी है। कहा जा रहा है कि ये भी पैंतड़ा फांसी टलवाने के लिए किया गया है।

वहीं दिल्ली की निचली अदालत ने गुरुवार को कहा कि निर्भया सामूहिक बलात्कार और हत्या के मामले में कानूनी राहत पाने के लिए चारों दोषियों की किसी भी अदालत ने कोई याचिका लंबित नहीं है। बता दें कि मामले के चारों दोषियों में से तीन ने उनकी मौत की सजा पर रोक लगाने की मांग करते हुए दिल्ली की एक अदालत का रुख किया था और कहा था उनमें से एक की दूसरी दया याचिका अब भी लंबित है। पांच मार्च को एक निचली अदालत ने मुकेश सिंह (32), पवन गुप्ता (25), विनय शर्मा (26) और अक्षय कुमार सिंह (31) को फांसी देने के लिए नया मृत्यु वारंट जारी किया था। चारों दोषियों को 20 मार्च सुबह साढ़े पांच बजे फांसी दी जाएगी।

नई दिल्ली। निर्भया केस के चारों दोषियों की कल फांसी होनी है, वहीं आज कोर्ट में मामले को लेकर सुनवाई होनी थी तो कोर्ट के सामने ही दोषी अक्षय की पत्नी बेहोश हो गयी। बता दें कि फांसी से एक दिन पहले दोषी अक्षय की पत्नी को तलाक देने की याचिका पर कोर्ट में सुनवाई होनी थी लेकिन उसकी पत्नी पुनीता कोर्ट नही पंहुच पाई बल्कि बाहर ही बेहोश हो गयी। बता दें कि निर्भया केस के चारों दोषियों की फांसी के लिए तीन बार डेथ वारंट रद्द हो चुके हैं। हर बार दोषियों की तरफ से कानूनी दांव पेंच खेलकर फांसी की तारीख टलवा दी गयी लेकिन इस बार दोषियों के पास कोई बड़ा विकल्प नही बचा है। हालांकि अक्षय की तरफ से कानूनी दांव खेलते हुए पत्नी को तलाक देने की याचिका डाली गयी थी, आज सुनवाई होनी थी तो पत्नी बाहर बेहोश हो गयी। अब सुनवाई 24 मार्च तक स्थगित कर ​दी गयी है, वहीं कल सभी दोषियों को फांसी होनी है। कहा जा रहा है कि ये भी पैंतड़ा फांसी टलवाने के लिए किया गया है। वहीं दिल्ली की निचली अदालत ने गुरुवार को कहा कि निर्भया सामूहिक बलात्कार और हत्या के मामले में कानूनी राहत पाने के लिए चारों दोषियों की किसी भी अदालत ने कोई याचिका लंबित नहीं है। बता दें कि मामले के चारों दोषियों में से तीन ने उनकी मौत की सजा पर रोक लगाने की मांग करते हुए दिल्ली की एक अदालत का रुख किया था और कहा था उनमें से एक की दूसरी दया याचिका अब भी लंबित है। पांच मार्च को एक निचली अदालत ने मुकेश सिंह (32), पवन गुप्ता (25), विनय शर्मा (26) और अक्षय कुमार सिंह (31) को फांसी देने के लिए नया मृत्यु वारंट जारी किया था। चारों दोषियों को 20 मार्च सुबह साढ़े पांच बजे फांसी दी जाएगी।