1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. निर्भया केस: 20 मार्च को होगी चारो दोषियों को फांसी, चौथी बार जारी हुआ डेथ वारंट

निर्भया केस: 20 मार्च को होगी चारो दोषियों को फांसी, चौथी बार जारी हुआ डेथ वारंट

नई दिल्ली। निर्भया केस के चारों दोषियों को 20 मार्च को तिहाड़ जेल में फांसी दी जायेगी। बता दें कि दोषियों की फांसी का ये चौथा डेथ वारंट जारी हुआ है। इससे पहले तीन बार डेथ वारंट जारी हो चुका है लेकिन हर बार कानूनी दांव पेंच खेलकर दोषियों के वकील ने फांसी टलवा दी। लेकिन अब दोषियों के लगभग सारे कानून विकल्प खत्म हो चुके हैं। ऐसे में ये तय माना जा रहा है कि इस बार फांसी नही टलेगी और तय तारीख पर हीं चारों दोषियों को एकसाथ फांसी दी जायेगी।

गौरतलब है कि दिल्ली में 16 दिसंबर 2012 को निर्भया के साथ छह दरिंदों ने चलती बस में गैंगरेप किया था और उसके बाद बेरहमी से उसकी हत्या कर दी थी। मामला देश के सामने आया तो पूरे देश में घटना को लेकर आक्रोशित लोग सड़को पर उतर आये। पुलिस ने इस मामले में तुरंत सभी दोषियों को पकड़ लिया। इन दोषियों में से एक दोषी नाबालिग था जिसे बाल सुधार गृह भेजा गया था जो कि अब छूट चुका है और कहीं गुमनामी की जिंदगी बिता रहा है। बाकी बचे पांचो दोषियों को इस मामले में फांसी की सजा सुनाई गयी थी। लेकिन एक आरोपी रामसिंह ने तिहाड़ जेल में ही आत्महत्या कर ली थी। अब घटना के सात साल बाद बाकी बचे चार दोषियों मुकेश, पवन, विनय और अक्षय को फांसी होनी है।

बता दें कि 2012 में निर्भया के साथ 6 दोषियों ने चलती बस में गैंगरेप किया था और के निर्भया गैंगरेप और हत्या मामले में आज पटियाला हाउस कोर्ट से नया डेथ वॉरंट जारी हो सकता है। अब इस मामले में फांसी की जो नई तारीख तय होगी, वह अंतिम होगी। ऐसा इसीलिए क्योंकि फांसी से बचने के लिए अब इन चारों के पास कोई विकल्प नहीं बचा। दिल्ली सरकार बिना वक्त गंवए बुधवार को ही अपनी अर्जी लेकर अदालत पहुंची और निर्भया मामले में चारों दोषियों की फांसी की नई तारीख तय करने का अनुरोध किया। इस पर दोषियों को आज अपना जवाब अदालत में देना है।

बता दें कि इस मामले में अडिशनल सेशन जज धर्मेंद्र राणा ने चारों दोषियों को गुरुवार तक अपना-अपना जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया। वहीं तिहाड़ जेल प्रशासन की ओर से सरकारी वकील इरफान अहमद ने अदालत आवेदन दिया था कि दोषियों के लिए सभी कानूनी विकल्प खत्म हो गए हैं और अब कानूनी उपचार का कोई विकल्प नहीं बचा है। इससे पहले बुधवार को दोषी पवन गुप्ता की दया याचिका राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ठुकरा दी थी।

तिहाड़ में फांसी देने की पूरी है तैयारी

निर्भया गैंगरेप के चारों दोषियों की फांसी का तीन बार डेथ वारंट जारी हो चुका है, ऐसे में तिहाड़ जेल पहले से ही तैयार है। कल जब पवन गुप्ता की भी दया याचिका राष्ट्रपति ने खारिज कर दी तबसे तिहाड़ जेल प्रशासन को फांसी पर लटकाने के लिए नई तारीख का इंतजार था। जेल प्रशासन का कहना है कि फांसी पर लटकाने के लिए तैयारी पूरी है। बटर लगी 10 रस्सी तिहाड़ की जेल नंबर-3 में सुरक्षित रखवा दी गई हैं। इन रस्सियों पर ट्रायल भी किया जा चुका है। जेल प्रशासन ने ये साफ कर दिया है कि यदि कोई कैदी खुद को घायल भी करता तब भी वह बच नही पायेगा। वहीं दोषियों की निगरानी और अधिक बढ़ा दी गई है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...