1. हिन्दी समाचार
  2. निर्भया केस: चारों शवों का पोस्टमॉर्टम शुरू,परिजनों ने अस्पताल से बनायी दूरी

निर्भया केस: चारों शवों का पोस्टमॉर्टम शुरू,परिजनों ने अस्पताल से बनायी दूरी

Nirbhaya Case Postmortem Of Four Bodies Started Relatives Made Distance From Hospital

By बलराम सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। दिल्ली में 16 दिसंबर 2012 हुए निर्भया गैंगरेप केस के चारों दोषियों को सात साल तीन महीने और तीन दिन बाद फांसी की सजा दे दी गई। तिहाड़ जेल में आज सुबह चारों को एक साथ फांसी दी गई। डीडीयू अस्पताल में चारों दोषियों के शवों का पोस्टमॉर्टम प्रक्रिया शुरू हो गयी है। पोस्टमॉर्टम के बाद शव को सभी के परिजनों को सौंपा जायेगा। तिहाड़ जेल प्रशासन ने कहा है कि शव के साथ सभी के परिजनों को जेल में दोषियों द्वारा कमाया गया पैसा भी दिया जायेगा।

पढ़ें :- सोने से पहले पत्तागोभी का ऐसे करें इस्तेमाल, सुबह देखें इसका चमत्कार

वहीं, तिहाड़ जेल के महानिदेशक ने कहा है कि सभी दोषियों के परिवार को सूचना दे दी गई है। उनका परिवार आया तो हम उनको शव सौपेंगे वरना जेल प्रशासन उन सभी का अंतिम संस्कार करेगी।उधर, दोषी अक्षय के परिजन डीडीयू अस्पताल पहुंच चुके हैं। अस्पताल के भीतर दोषियों के शव का पोस्टमॉर्टम प्रक्रिया में जारी है। हालांकि अन्य दोषियों के परिजन अभी तक नहीं पहुंचे हैं।

निर्भया गैगरेप व हत्या मामले में फांसी पर चढ़ाए गए दोषियों के परिवार से कोई परिजन अब तक नहीं आया। डीडीयू अस्पताल में पोस्टमॉर्टम की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। योगगुरू रामदेव ने आज के दिन को ऐतिहासिक बताया है।उन्होंने कहा कि आज के दिन सभी लोगों को अपने चरित्र के बारे में सोचना चाहिए। किसी से भी गलत व्यवहार नहीं करना चाहिए।

तिहाड़ जेल के महानिदेशक ने कहा कि दिल्ली गैंगरेप के सभी चार अपराधियों के शवों को पोस्टमॉर्टम के बाद उनके परिजनों को सौंपा जायेगा। निर्भया के पिता ने कहा कि आज हमारी जीत है और यह मीडिया, समाज और दिल्ली पुलिस की वजह से हुआ। आप समझ सकते हैं कि मेरी मुस्कुराहट से मेरे दिल के अंदर क्या है।

पढ़ें :- अगर आपके घर में लगा है ये पेड़, तो कोई आपका कुछ नहीं बिगाड़ सकता

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...