1. हिन्दी समाचार
  2. निर्भया केस: आरोपी अक्षय के वकील एपी सिंह बोले-जन दबाव में सुप्रीम कोर्ट ने दिया फैसला

निर्भया केस: आरोपी अक्षय के वकील एपी सिंह बोले-जन दबाव में सुप्रीम कोर्ट ने दिया फैसला

Nirbhaya Case Supreme Court Gave Verdict Under Public Pressure Lawyer Of Accused

नई दिल्ली। निर्भया केस के मामले में चार आरोपियों मुकेश, विनय, अक्षय और पवन को फांसी की सजा सुनाई गयी थी लेकिन अभी तक फांसी की कोई तारीख जारी नही हुई थी। हाल ही में निर्भया के परिजनों ने पटियाला हाउस कोर्ट में दोषियों को जल्द फांसी देने की याचिका दायर की थी लेकिन आरोपी अक्षय की तरफ से सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका डाली गयी थी जिसपर सुनवाई करते हुए आज सुप्रीम कोर्ट ने याचिका को खारिज कर दिया। वहीं याचिका के खारिज होते ही आरोपी अक्षय के वकील ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर संदेह व्यक्त किया है।

पढ़ें :- रेनॉल्ट ने इन कारों पर दी 65,000 तक की छूट, जल्द करें ख़रीदारी

सुप्रीम कोर्ट दोषी अक्षय की पुनर्विचार याचिका खारिज करते हुए कहा कि अपराध के इस मामले में पुनर्विचार करने का कोई आधार नहीं है। इस दौरान दोनों पक्षों को दलील देने के लिए 30-30 मिनट का वक्त मिला था। आरोपी अक्षय के वकील एपी सिंह ने कहा कि अक्षय को फांसी इसलिए दी जा रही है क्योंकि ये गरीब है, उनका आरोप है कि इस मामले में सब कुछ राजनीतिक एजेंडा की तरह हो रहा है।

इस दौरान अक्षय के वकील एपी सिंह ने कहा कि निर्भया की मौत अस्पताल की लापरवाही से हुई थी। यही नही उन्होने आरोपी राम​ सिंह की जेल में हुई आत्महत्या के मामले में भी सवाल खड़े कर दिये निर्भया के दोस्त की गवाही पर भी संदेह जताया है। बात फांसी की आयी तो अक्षय के वकील एपी सिंह ने कहा कि जब देश में इतने लोगों की फांसी लंबित है, तो फिर इन आरोपियों को फांसी देने के लिए इतनी जल्दबाजी क्यों? उनका आरोप था कि ये प्रेशर में हो रहा है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...