निर्भया केस: फांसी से बचने के लिए दोषी विनय ने चुनाव आयोग में दी याचिका

Vinay sharma
निर्भया केस: फांसी से बचने के लिए दोषी विनय ने चुनाव आयोग में दी याचिका

नई दिल्ली। निर्भया गैंगरेप केस के आरोपियों को आगामी 3 मार्च को फांसी दी जाएगी। फांसी से बचने के लिए निर्भया के दोष लगातार नए-नए तिकड़म अपना रहे हैं। 3 फरवरी को होने वाली फांसी की सजा से बचने के लिए निर्भया के चार दोषियों में से एक विनय शर्मा ने नया दांव चला है। दोषी विनय के वकील एपी सिंह ने चुनाव आयोग में याचिका दाखिल कर राष्ट्रपति के पास दया याचिका खारिज करने की दिल्ली सरकार की सिफारिश पर सवाल उठाया है।

Nirbhaya Case Vinay Pleaded Guilty To Escape Execution :

दोषी विनय शर्मा के वकील एपी सिंह ने अपनी याचिका में कहा है कि जिस वक्त विनय की दया याचिका खारिज करने की सिफारिश दिल्ली सरकार ने राष्ट्रपति से की थी, उस वक्त दिल्ली में आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू थी।

वकील एपी सिंह ने कहा कि सबसे बड़ा लोकतंत्र है और चुनाव आयोग से भूलवश ऐसी गलती हुई तो उसमें सुधार होना चाहिए। सुप्रीम कोर्ट में भी हमने यह दलील नहीं दी थी। डिजिटल साइन किए थे। चुनाव आयोग से संज्ञान लेने की मांग। खुद को चोट नहीं पहुंचाई है और उसका हाथ टूटा हुआ है। इसको लेकर हम नई याचिका दाखिल करूंगा।

नई दिल्ली। निर्भया गैंगरेप केस के आरोपियों को आगामी 3 मार्च को फांसी दी जाएगी। फांसी से बचने के लिए निर्भया के दोष लगातार नए-नए तिकड़म अपना रहे हैं। 3 फरवरी को होने वाली फांसी की सजा से बचने के लिए निर्भया के चार दोषियों में से एक विनय शर्मा ने नया दांव चला है। दोषी विनय के वकील एपी सिंह ने चुनाव आयोग में याचिका दाखिल कर राष्ट्रपति के पास दया याचिका खारिज करने की दिल्ली सरकार की सिफारिश पर सवाल उठाया है। दोषी विनय शर्मा के वकील एपी सिंह ने अपनी याचिका में कहा है कि जिस वक्त विनय की दया याचिका खारिज करने की सिफारिश दिल्ली सरकार ने राष्ट्रपति से की थी, उस वक्त दिल्ली में आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू थी। वकील एपी सिंह ने कहा कि सबसे बड़ा लोकतंत्र है और चुनाव आयोग से भूलवश ऐसी गलती हुई तो उसमें सुधार होना चाहिए। सुप्रीम कोर्ट में भी हमने यह दलील नहीं दी थी। डिजिटल साइन किए थे। चुनाव आयोग से संज्ञान लेने की मांग। खुद को चोट नहीं पहुंचाई है और उसका हाथ टूटा हुआ है। इसको लेकर हम नई याचिका दाखिल करूंगा।