1. हिन्दी समाचार
  2. निर्भया केस: जब कोर्ट में पीड़िता और दोषी की मां एक साथ रोने लगीं…

निर्भया केस: जब कोर्ट में पीड़िता और दोषी की मां एक साथ रोने लगीं…

Nirbhaya Case When The Victim And The Convicts Mother Started Crying Together In Court

नई दिल्ली। मंगलवार को निर्भया गैंगरेप केस में चारों दोषियों का डेथ वारंट जारी कर दिया गया, इन सभी दोषियों को 22 जनवरी की सुबह 7 बजे फांसी दी जायेगी। 7 साल पहले इन्सानियत को शर्मसार करने वाली इस घटना ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया था। लगातार 7 साल से निर्भया के माता पिता न्याय की गुहार को लेकर इस अदालत से उस अदालत तक चक्कर काट रहे थे लेकिन आज उन्हे न्याय मिल ही गया। सुनवाई के दौरान जहां एक तरफ निर्भया की मां बेटी के इंसाफ के लिए रो रहीं थी वहीं दोषी की मां जज से बेटे पर रहम की भीख मांगते हुए रोने लगीं।

पढ़ें :- बिग बॉस एक्स कंटेस्टेंट एली ने बिकिनी PICS ने मचाया तहलका, तस्वीरें देखें जरा संभल कर

जब सुनवाई के दौरान दोषियों की तरफ से कुछ दिनो की मोहलत की दलील दी जाने लगी तो निर्भया की मां फूट फूटकर रोने लगीं। उन्होने जज से कहा कि इस मामले में अब जब कोई भी याचिका नही दायर है तो फिर डेथ वारेंट क्यों नही जारी हो सकती। इसी पर दोषी मुकेश की मां भी रोने लगीं और जज से गुहार लगाते हुए बोलीं की मैं भी मां हूं, मेरी चिंताओं को देखा जाना चाहिए। उसने कहा कि जज साहब दया करो हम पर, मेरे लाल का क्या होगा। इसके बाद निर्भया की मां ने भी कहा कि मैं भी एक मां हूं, हम डेथ वारंट जारी करने के अदालत के फैसले का इंतजार कर रहे हैं।

गौरतलब है कि दिल्ली में 16 दिसंबर 2012 को निर्भया के साथ छह दरिंदों ने चलती बस में गैंगरेप किया था। छह में से एक दोषी नाबालिग था जिसे बाल सुधार गृह भेजा गया था जो कि अब छूट चुका है और कहीं गुमनामी की जिंदगी बिता रहा है। बाकी बचे पांचो दोषियों को इस मामले में फांसी की सजा सुनाई गयी थी। लेकिन एक आरोपी रामसिंह ने तिहाड़ जेल में ही आत्महत्या कर ली थी। अब घटना के सात साल बाद बाकी बचे चार दोषियों मुकेश, पवन, विनय और अक्षय को फांसी की सजा होनी है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...