HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. बीएचयू में प्रोफेसर बनाए जाने की खबर को नीता अंबानी ने बताया फर्जी, छात्र कर रहे थे विरोध

बीएचयू में प्रोफेसर बनाए जाने की खबर को नीता अंबानी ने बताया फर्जी, छात्र कर रहे थे विरोध

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) रिलायंस इंडस्ट्रीज की कार्यकारी निदेशक और रिलायंस फाउंडेशन की अध्यक्ष नीता अंबानी को विजिटिंग प्रोफेसर बनाए जाने की खबरें चर्चाओं में थीं। वहीं, इसको लेकर कई तरह की बातें भी शुरू हो गयीं थीं। इस बीच रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के प्रवक्ता ने इस खबर को गलत बताया है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) रिलायंस इंडस्ट्रीज की कार्यकारी निदेशक और रिलायंस फाउंडेशन की अध्यक्ष नीता अंबानी को विजिटिंग प्रोफेसर बनाए जाने की खबरें चर्चाओं में थीं। वहीं, इसको लेकर कई तरह की बातें भी शुरू हो गयीं थीं। इस बीच रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के प्रवक्ता ने इस खबर को गलत बताया है।

पढ़ें :- NEET 2024 : नीट मामले में सीबीआई ने दो मेडिकल स्टूडेंट समेत तीन को पकड़ा, तीनों करीबी हैं संजीव मुखिया के

उन्होंने कहा कि बीएचयू की ओर से विजि​टिंग प्रोफेसर बनाने का कोई प्रस्ताव नहीं मिला है। ऐसे में ये खबर फर्जी है। बता दें कि, हाल के दिनों में खबर चर्चाओं में थी कि ​बीएचयू के सामाजिक विज्ञान संकाय की ओर से नीता अंबानी को विजिटिंग प्रोफेसर बनाने का प्रस्ताव भेजा गया है।

बता दें कि, रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक मुकेश अंबानी की पत्नी नीता अंबानी ने मुंबई विश्वविद्यालय से बीकॉम किया है और उन्हें वर्ष 2014 में रिलायंस इंडस्ट्रीज का कार्यकारी निदेशक बनाया गया।

साल 2010 में उन्होंने रिलायंस फाउंडेशन का गठन किया था। माना जा रहा था कि उनकी एक सफल महिला उद्यमी होने की छवि की वजह यह प्रस्ताव दिया गया है। वहीं, इन चर्चाओं के बीच कुछ छात्र इसका विरोध कर रहे थे।

 

पढ़ें :- UPSC में एक IAS की भर्ती का घपला सरेआम सामने आने के बाद त्यागपत्र देना कोई समाधान नहीं है: अखिलेश यादव

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...