तेज प्रताप यादव की शादी में शामिल हुए नितीश कुमार समेत तमाम दिग्गज

पटना। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हाल ही चारा घोटाले में सजा पाए लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव की शादी शनिवार को बड़े ही धूमधाम से हो गई। इस शादी में उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के अलावा तमाम दिग्गज शामिल हुए। इनमें प्रमुख रूप से फारूक अब्दुल्लाह, अजीत सिंह, शरद यादव, प्रफुल पटेल, शत्रुघ्न सिन्हा, दिग्विजय सिंह, हेमंत सोरेन, सीताराम येचूरी एवं डी. राजा प्रमुख थे।

Nitish Kumar Erached In Tej Prataps Wedding Ceremony :

शादी समारोह के दौरान इन लोगों ने भले ही कोई बड़ा बयान न दिया हो, लेकिन इन लोगों के एक साथ मौजूद होना अपने अपने आप में बहुत बड़ी बात है। इस शादी में वैसे तमाम दिग्गज शामिल हुए लेकिन मीडिया का मेन फोकस मुख्यमंत्री नितीश कुमार पर रहा। वो जब शादी समारोह में पहुंचे तो लालू प्रसाद ने उठकर उनका स्वागत किया और काफी देर तक उनका हाथ पकड़कर बात करते रहे।

नीतिश कुमार जब सोफे पर जाकर बैठे तो लालू यादव के छोटे बेटे और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव उनके बगल में आकर बैठ गए। इसके बाद केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान आए तो तेजस्वी ने उनसे अपनी जगह बैठने का आग्रह किया और खुद पीछे खड़े हो गए। लालू प्रसाद के बाएं तरफ लगी कुर्सी पर राम जेठमलानी भी मौजूद थे।

तेज प्रताप यादव की शादी में बिहार के मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी नही शामिल हुए। बताया जा रहा है कि वो अपनी पोलैंड यात्रा पर है। बता दें कि इस शादी में जीनत राम मांझी और उपेन्द्र कुशवाहा के साथ ही सरयू राय काफी देर तक मौजूद रहे।

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के साथ आई उनकी पत्नी डिंपल यादव ने कहा कि दुख और सुख जीवन का हिस्सा हैं। ये आते और जाते रहते है। हम लालू परिवार की खुशियों में शामिल होने आए हैं। भाकपा के डी. राजा और माकपा के सीताराम येचूरी ने भी कोई राजनीतिक बयान नहीं दिया। बता दें कि शरद यादव की विभिन्न दलों की गोलबंदी के प्रयास में ये दोनों नेता भी सक्रिय रूप से शामिल हैं। इस शादी में इन सभी नेताओं की एक साथ मौजूदगी भविष्य में काफी बड़ी गोलबंदी के संकेत दे रही है।

पटना। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हाल ही चारा घोटाले में सजा पाए लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव की शादी शनिवार को बड़े ही धूमधाम से हो गई। इस शादी में उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के अलावा तमाम दिग्गज शामिल हुए। इनमें प्रमुख रूप से फारूक अब्दुल्लाह, अजीत सिंह, शरद यादव, प्रफुल पटेल, शत्रुघ्न सिन्हा, दिग्विजय सिंह, हेमंत सोरेन, सीताराम येचूरी एवं डी. राजा प्रमुख थे। शादी समारोह के दौरान इन लोगों ने भले ही कोई बड़ा बयान न दिया हो, लेकिन इन लोगों के एक साथ मौजूद होना अपने अपने आप में बहुत बड़ी बात है। इस शादी में वैसे तमाम दिग्गज शामिल हुए लेकिन मीडिया का मेन फोकस मुख्यमंत्री नितीश कुमार पर रहा। वो जब शादी समारोह में पहुंचे तो लालू प्रसाद ने उठकर उनका स्वागत किया और काफी देर तक उनका हाथ पकड़कर बात करते रहे। नीतिश कुमार जब सोफे पर जाकर बैठे तो लालू यादव के छोटे बेटे और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव उनके बगल में आकर बैठ गए। इसके बाद केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान आए तो तेजस्वी ने उनसे अपनी जगह बैठने का आग्रह किया और खुद पीछे खड़े हो गए। लालू प्रसाद के बाएं तरफ लगी कुर्सी पर राम जेठमलानी भी मौजूद थे। तेज प्रताप यादव की शादी में बिहार के मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी नही शामिल हुए। बताया जा रहा है कि वो अपनी पोलैंड यात्रा पर है। बता दें कि इस शादी में जीनत राम मांझी और उपेन्द्र कुशवाहा के साथ ही सरयू राय काफी देर तक मौजूद रहे। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के साथ आई उनकी पत्नी डिंपल यादव ने कहा कि दुख और सुख जीवन का हिस्सा हैं। ये आते और जाते रहते है। हम लालू परिवार की खुशियों में शामिल होने आए हैं। भाकपा के डी. राजा और माकपा के सीताराम येचूरी ने भी कोई राजनीतिक बयान नहीं दिया। बता दें कि शरद यादव की विभिन्न दलों की गोलबंदी के प्रयास में ये दोनों नेता भी सक्रिय रूप से शामिल हैं। इस शादी में इन सभी नेताओं की एक साथ मौजूदगी भविष्य में काफी बड़ी गोलबंदी के संकेत दे रही है।