1. हिन्दी समाचार
  2. NMC बिल: देश भर में 24 घंटे तक सेवाएं बाधित रखेंगे बिहार समेत देश भर के चिकित्सक

NMC बिल: देश भर में 24 घंटे तक सेवाएं बाधित रखेंगे बिहार समेत देश भर के चिकित्सक

Nmc Bill Doctors Across The Country Including Bihar Will Be Disrupted For 24 Hours Throughout The Country

By विपिन यादव 
Updated Date

नई दिल्ली। राष्ट्रीय आयुर्विज्ञान आयोग यानी नेशनल मेडिकल कमीशन बिल के विरोध में आज बुधवार को इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने 24 घंटे की हड़ताल का ऐलान किया है। इस दौरान ओपीडी सर्विस बंद रहेंगी हालंकि इमरजेंसी कैजुलटी और ऑपरेशन सर्विस जारी रहेंगी। हड़ताल आज बुधवार सुबह 6 बजे से गुरुवार सुबह 6 बजे तक जारी रहेगी। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के साथ 3 लाख 50 हजार डॉक्टर रजिस्टर हैं।

पढ़ें :- IPL 2020: आउट करने पर हार्दिक पांड्या से भिड़े क्रिस मौरिस, फिर जानिए क्या हुआ

जानकारी के मुताबिक, दिल्ली स्थित आईएमए मुख्यालय ने चिकित्सकों से बुधवार 31 जुलाई को 24 घंटे का सेवाएं ठप रखने का आह्वान किया है। आपातकालीन कार्रवाई समिति ने स्थिति की समीक्षा कर बुधवार, 31 जुलाई की सुबह छह बजे से अगले दिन एक अगस्त की सुबह छह बजे तक आधुनिक चिकित्सा डॉक्टरों द्वारा देश भर में गैर-जरूरी सेवाओं को वापस लेने के लिए 24 घंटे का आह्वान किया है। साथ ही कहा है कि आपातकालीन, कैजुअल्टी, आईसीयू और संबंधित सेवाएं सामान्य रूप से काम करेंगी। सभी राज्य और स्थानीय शाखाओं द्वारा सार्वजनिक प्रदर्शन और भूख हड़ताल की जायेगी। साथ ही कहा गया है कि एनएमसी के खिलाफ लड़ाई जारी रहेगी।

आईएमए के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ सांतनु सेन ने कहा कि यदि एनएमसी विधेयक की धारा-32 नहीं हटायी गयी, तो सरकार ‘अपने हाथ खून से रंगेगी।’ उन्होंने कहा कि नीम-हकीमी को वैध करनेवाली धारा-32 को जोड़ने से लोगों की जान खतरे में पड़ेगी। आईएमए विधेयक के कुछ अन्य प्रावधानों के खिलाफ भी है। उन्होंने कहा कि ‘एनएमसी विधेयक रोगियों की सुरक्षा से समझौता करता है। यह लोकतंत्र, संघवाद और समान अवसर के संवैधानिक सिद्धांतों का उल्लंघन भी करता है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...