यूपी पुलिस में 15 मार्च से लगी अवकाश पर रोक, डीजीपी ने जारी किये आदेश

b

लखनऊ। होली, रमजान और साथ ही लोकसभा चुनाव। यूपी पुलिस के लिए आने वाला समय काफी चुनौतियों से भरा रहने वाला है। इस को देखते ही पुलिस विभाग में अवकाश पर रोक लगा दी गई है। यह प्रतिबंध 15 मार्च से प्रभावी होगा। डीजीपी ओपी सिंह ने इसके लिए बुधवार को आदेश जारी कर दिया।

No Leave For Policemen After 15 March Dgp Issues Order :


उन्होंने कहा है कि होली और लोकसभा चुनावों के मद्देनजर सभी पुलिसकर्मियों को 15 मार्च से अवकाश नहीं दिए जाएंगे। डीजीपी ने मातहत अधिकारियों को इसके लिए निर्देश जारी कर दिए हैं। इसमें अफसरों से निर्देशों पर प्रभावी अमल करने को कहा गया है।

डीजीपी ने अफसरों से यह भी कहा है कि विशेष व अपरिहार्य परिस्थितियों में ही अफसर संबंधित कर्मी की जरूरत को देखते हुए ही अवकाश स्वीकृत कर सकेंगे। डीजीपी मुख्यालय के अधिकारियों का कहना है कि संबंधित अफसर अपरिहार्य परिस्थितियों में स्वीकृत किए जाने वाले अवकाश को लेकर अपने वरिष्ठ अफसरों की जानकारी में लाएंगे।

डीजीपी मुख्यालय में बनाए गए चुनाव प्रकोष्ठ से लोकसभा चुनाव की तैयारियों पर सीधी नजर रखी जाएगी। प्रकोष्ठ कंट्रोल रूम से लेकर जिलों में तैनात पुलिस अफसरों से संपर्क रखने और दिशा-निर्देश देने के साथ ही रिपोर्ट हासिल करने का काम करेगा। जिलों से आने वाली इस प्रोग्रेस रिपोर्ट को डीजीपी व एडीजी कानून.व्यवस्था के समक्ष रखा जाएगा। चुनाव प्रकोष्ठ जिलों को आवंटित होने वाले सुरक्षा बलों को लेकर की जानी वाली जरूरी तैयारियों की भी जिम्मेदारी संभालेगा।

लखनऊ। होली, रमजान और साथ ही लोकसभा चुनाव। यूपी पुलिस के लिए आने वाला समय काफी चुनौतियों से भरा रहने वाला है। इस को देखते ही पुलिस विभाग में अवकाश पर रोक लगा दी गई है। यह प्रतिबंध 15 मार्च से प्रभावी होगा। डीजीपी ओपी सिंह ने इसके लिए बुधवार को आदेश जारी कर दिया।


उन्होंने कहा है कि होली और लोकसभा चुनावों के मद्देनजर सभी पुलिसकर्मियों को 15 मार्च से अवकाश नहीं दिए जाएंगे। डीजीपी ने मातहत अधिकारियों को इसके लिए निर्देश जारी कर दिए हैं। इसमें अफसरों से निर्देशों पर प्रभावी अमल करने को कहा गया है।

डीजीपी ने अफसरों से यह भी कहा है कि विशेष व अपरिहार्य परिस्थितियों में ही अफसर संबंधित कर्मी की जरूरत को देखते हुए ही अवकाश स्वीकृत कर सकेंगे। डीजीपी मुख्यालय के अधिकारियों का कहना है कि संबंधित अफसर अपरिहार्य परिस्थितियों में स्वीकृत किए जाने वाले अवकाश को लेकर अपने वरिष्ठ अफसरों की जानकारी में लाएंगे।

डीजीपी मुख्यालय में बनाए गए चुनाव प्रकोष्ठ से लोकसभा चुनाव की तैयारियों पर सीधी नजर रखी जाएगी। प्रकोष्ठ कंट्रोल रूम से लेकर जिलों में तैनात पुलिस अफसरों से संपर्क रखने और दिशा-निर्देश देने के साथ ही रिपोर्ट हासिल करने का काम करेगा। जिलों से आने वाली इस प्रोग्रेस रिपोर्ट को डीजीपी व एडीजी कानून.व्यवस्था के समक्ष रखा जाएगा। चुनाव प्रकोष्ठ जिलों को आवंटित होने वाले सुरक्षा बलों को लेकर की जानी वाली जरूरी तैयारियों की भी जिम्मेदारी संभालेगा।