1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. चाहे कोई भी हो, तय क्रम पर ही उसका होगा वैक्सीनेशन: मुख्यमंत्री

चाहे कोई भी हो, तय क्रम पर ही उसका होगा वैक्सीनेशन: मुख्यमंत्री

No Matter What Happens It Will Be Vaccinated In The Prescribed Order Chief Minister

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि टीकाकरण के लिए केंद्र सरकार द्वारा तय प्राथमिकता क्रम का हर हाल में उसका ढंग से पालन किया जाए। कोई भी कितना महत्वपूर्ण व्यक्ति क्यों न हो, तय क्रम आने के बाद ही उसका वैक्सीनेशन होगा। मुख्यमंत्री ने इस अभियान को लेकर किसी तरह का भ्रम अथवा अराजकता फैलाने वालों पर सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

पढ़ें :- बिहार की रेल दुर्घटना के बाद अलीगढ़ में बस हादसा,  4 यात्रियों की मौत

मुख्यमंत्री ने मंगलवार शाम को मंडलायुक्तों और जिलाधिकारियों सहित पुलिस अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से तैयारियों की समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि वैश्विक महामारी कोविड-19 से बचाव के लिए वृहद टीकाकरण अभियान जल्द शुरू होने के आसार हैं। उन्होंने कहा कि वैक्सीन के प्रति लोगों में आतुरता स्वाभाविक है, लेकिन यह आतुरता किसी भी दशा में वैक्सीन की सुरक्षा के लिए नुकसानदायक नहीं होनी चाहिए। इसलिए वैक्सीन की सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए जाएं। टीकाकरण अभियान से जुड़े सभी स्थलों पर केवल अधिकृत व्यक्ति ही रहें। सतत मॉनिटरिंग के लिए नोडल अधिकारी तैनात हों जो टीकाकरण केंद्रों पर भ्रमण करते रहें।

मुख्यमंत्री ने जनता की जागरूकता के लिए मीडिया से इस वृहद अभियान में सकारात्मक भूमिका की अपील की है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि मीडिया को जरूरत के अनुसार जरूरी जानकारियां दी जाएं। टीकाकरण के बाद यदि किसी व्यक्ति को स्वास्थ्य संबंधी कोई समस्या आती है तो उसके उपचार के व्यवस्थित प्रबन्ध किये जाएं।

वैक्सीनेशन के बाद संबंधित व्यक्ति को एक कार्ड दिया जाएगा। इस पर नाम, पता आदि के अलावा वैक्सीन के अगले डोज की तारीख भी लिखी होगी। टीका लगवाने वालों का नाम पहले से ही तय होगा। केवल वही टीकाकरण केंद्र पर जा सकेंगे। वहां सत्यापन के बाद टीका लगेगा। फिर ऑब्जर्वेशन रूम में आधा घंटा गुजारना होगा। इस अवधि में व्यक्ति के स्वास्थ्य में यदि किसी प्रकार की समस्या आती है तो तत्काल उसे आवश्यक चिकित्सकीय सहायता दिलाई जाएगी। इसके लिए विस्तृत प्रबन्ध किये जा रहे हैं।

अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि पहले चरण में सरकारी एवं गैर सरकारी संस्थानों में कार्यरत स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण होगा। करीब नौ लाख स्वास्थ्य कर्मियों के लिए 1500 स्थलों पर 3000 सत्र होंगे। इस तरह एक दिन में तीन लाख और तीन दिन में नौ लाख स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण होगा। चौथे दिन इस श्रेणी के छूटे हुए लोगों को एक अवसर दिया जाएगा। इसके बाद, दूसरे चरण में पुलिस, जेल कर्मी, होमगार्ड, नगरीय निकायों के स्वच्छता कर्मियों और सर्विलांस आदि कार्यों में लगे राजस्व कर्मियों को टीका लगेगा। तीसरे चरण में 50 वर्ष से अधिक उम्र के लोग तथा 50 वर्स से कम आयु के ऐसे लोग जो डायबिटीज, कैंसर आदि गंभीर बीमारियों से ग्रसित हैं, उनका वैक्सीनेशन होगा।

पढ़ें :- मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 27 बिजली उपकेंद्रों का किया शिलान्यास

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...