2017 से CBSE में बंद हो जाएगी रीवैल्युएशन की व्यवस्था

नई दिल्ली| साल 2017 से सीबीएसई बोर्ड ने कापियों का पुनर्मूल्यांकन खत्म करने का फैसला कर लिया है| सीबीएसई के चेयरपर्सन आर.के. चतुर्वेदी ने बताया है कि सीबीएसई बोर्ड की गवर्निंग बॉडी ने इस फैसले पर मुहर लगा दी है|




सीबीएसई बोर्ड 2014 से 12वी के एग्जाम के 10 विषयों की कापियों का पुनर्मूल्यांकन करवा रहा है| हर साल करीब 1.8 फीसदी स्टूडेंट्स कॉपी रिचेक करवाने के लिए आवेदन करते है जिनमें से बहुत कम बच्चों को ही इसका फायदा मिल पता है| इसी वजह से इस व्यवस्था को खतम करने का फैसला किया गया है|

सीबीएसई बोर्ड के चेयरपर्सन ने बताया है कि 2017 के एग्जाम की व्यवस्था को देखने के लिए दो टीम्स बनाई जाएंगी| एक टीम एग्जाम के लिए बनाए गए नियमों को देखेगी और दूसरी टीम एग्जाम के सिस्टम को देखेगी| उन्होंने बताया कि अगला CTET भी ऑनलाइन करवाने की योजना बनाई जा रही है |

सीबीएसई के इस फैसले से स्टूडेंट्स को कोई नुक्सान नहीं होगा| 2014 से पहले भी रिजल्ट को लेकर स्टूडेंट्स की शिकायतों को दूर करने के लिए इंटरनल कमिटी काम करती आई है| इस बार भी कोई नया सिस्टम बनाया जाएगा जिससे सारे स्टूडेंट्स की समस्या का समाधान हो सके | इस बार सीबीएसई बोर्ड एग्जाम के सेंटर की जानकारी देने के लिए एक ऐप लांच करेगा|

रिपोर्ट: कोमल निगम



Loading...