मुलायम सिंह का छलका दर्द, कहा कोई नहीं करता उनका सम्‍मान

mulayam singh yadav
मुलायम सिंह का छलका दर्द, कहा कोई नहीं करता उनका सम्‍मान

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के संर​क्षक मुलायक सिंह यादव का शनिवार को दर्द छलक उठा। वो समाजवादी चिंतक और पूर्व मंत्री भगवती सिंह के 86वं जन्मदिन कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होने कहा कि अब उनका कोई सम्‍मान नहीं करता है लेकिन शायद मरने के बाद के बाद लोग ऐसा करें। मुलायम सिंह ने बताया कि राम मनोहर लोहिया भी कहा करते थे कि जिंदा रहते कोई सम्‍मान नहीं करता है।

Nobody Respect Him In Samajwadi Party Says Mulayam Singh Yadav :

कार्यक्रम के दौरान मुलायम सिंह ने कहा कि लोहिया कहा भी करते थे कि इस देश में जिंदा रहते कोई सम्मान नहीं करता है।’ इस मौके पर उन्‍होंने भगवती सिंह को बधाई देते हुए कहा कि उनकी समाजवादी पार्टी के गठन में बड़ी भूमिका रही है। उन्‍होंने संगठन को मजबूत बनाने का प्रयास किया।

एसपी संरक्षक ने राम मनोहर लोहिया की भी जमकर प्रशंसा की। बता दें कि मुलायम सिंह पहले भी ऐसे बयान दे चुके हैं। उन्‍होंने अपने बेटे अखिलेश यादव को भी कई बार नसीहत दी है। एक साल पहले पार्टी नेतृत्‍व को लेकर हुए विवाद के दौरान मुलायम सिंह ने कहा था कि पिता होने के नाते उनका आशीर्वाद बेटे अखिलेश के साथ है, लेकिन वह उनके फैसलों से सहमत नहीं हैं।

पत्रकारों द्वारा पूछे गए एक सवाल में तो उन्होने यहां तक कह दिया था कि अखिलेश धोखेबाज हैं। उन्होंने कहा, ‘जो बात का पक्का नहीं, वादा निभाने वाला नहीं, वह जीवन में कभी कामयाब नहीं होगा। उसने बाप को धोखा दिया है।

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के संर​क्षक मुलायक सिंह यादव का शनिवार को दर्द छलक उठा। वो समाजवादी चिंतक और पूर्व मंत्री भगवती सिंह के 86वं जन्मदिन कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होने कहा कि अब उनका कोई सम्‍मान नहीं करता है लेकिन शायद मरने के बाद के बाद लोग ऐसा करें। मुलायम सिंह ने बताया कि राम मनोहर लोहिया भी कहा करते थे कि जिंदा रहते कोई सम्‍मान नहीं करता है।कार्यक्रम के दौरान मुलायम सिंह ने कहा कि लोहिया कहा भी करते थे कि इस देश में जिंदा रहते कोई सम्मान नहीं करता है।' इस मौके पर उन्‍होंने भगवती सिंह को बधाई देते हुए कहा कि उनकी समाजवादी पार्टी के गठन में बड़ी भूमिका रही है। उन्‍होंने संगठन को मजबूत बनाने का प्रयास किया।एसपी संरक्षक ने राम मनोहर लोहिया की भी जमकर प्रशंसा की। बता दें कि मुलायम सिंह पहले भी ऐसे बयान दे चुके हैं। उन्‍होंने अपने बेटे अखिलेश यादव को भी कई बार नसीहत दी है। एक साल पहले पार्टी नेतृत्‍व को लेकर हुए विवाद के दौरान मुलायम सिंह ने कहा था कि पिता होने के नाते उनका आशीर्वाद बेटे अखिलेश के साथ है, लेकिन वह उनके फैसलों से सहमत नहीं हैं।पत्रकारों द्वारा पूछे गए एक सवाल में तो उन्होने यहां तक कह दिया था कि अखिलेश धोखेबाज हैं। उन्होंने कहा, 'जो बात का पक्का नहीं, वादा निभाने वाला नहीं, वह जीवन में कभी कामयाब नहीं होगा। उसने बाप को धोखा दिया है।