अवैध संबंधों में बाधा बन रहा था पति, पत्नी ने प्रेमी को सुपारी दे कराई हत्या

rupesh
अवैध संबंधों में बाधा बन रहा था पति, पत्नी ने प्रेमी को सुपारी दे कराई हत्या

नई दिल्ली। यूपी में जिला गौतमबुद्ध नगर के नोएडा एक्सटेंशन में एक निजी कंपनी के सेल्स मैनेजर की हत्या का मामला पुलिस ने सुलझा लिया है। पुलिस का दावा है कि तलाक नहीं देने पर पत्नी ने अपने प्रेमी को 3 लाख रुपये की सुपारी देकर हत्या कराई थी।

Noida Gaur City Husband Murder Wife Illegal Relationship Disclosure Accused Arrested Crime :

आपको बता दे उसकी लाश एक सोसाइटी के पास उसी की कार में मिली थी। मृतक का नाम रूपेंद्र चंदेल था। पुलिस ने इस मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। लेकिन मृतक की पत्नी यानी मुख्य आरोपी अभी फरार है।

तलाक चाहती थी पत्नी

ओमवीर इंटीरियर डिजायनर है। उसने सोयायटी में 20 से अधिक फ्लैटों का इंटीरियर डिजाइन किया है। इसी दौरान उसके रूपेंद्र की पत्नी अमृता से संबंध बन गए थे। अपनी शादी के बाद भी वह अमृता के संपर्क में था। इसका पता चलने पर रूपेंद्र विरोध करता था। पत्नी से अक्सर विवाद भी होता था। उनकी पत्नी उनसे तलाक चाहती थी।

तलाक न देने पर पत्नी ने अपने प्रेमी व उसके साथियों संग मिलकर पति की हत्या की साजिश रच दी। हत्या करने के लिए प्रेमी को जूलरी बेचकर 3 लाख रुपये भी दिए। वहीं, घटना के बाद पति के पास जो जूलरी थी, उसे लेकर पत्नी गायब है। उनका बच्चा अपने दादा-दादी के पास है।

पहले दिन हो गया था पत्नी पर शक

पति की हत्या की सूचना के बाद पत्नी मौके पर पहुंची थी, लेकिन बिना तहरीर दिए वापस लौट गई थी। पुलिस ने पड़ोसियों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया था। मामले की जांच में जुटी पुलिस को पहले दिन से ही पत्नी शक हो गया था, लेकिन पुलिस ने मोबाइल कॉल रिकॉर्ड व पूछताछ के आधार पर शक यकीन में बदला।

सोसायटी में ही रच दी हत्या की साजिश

ओमवीर का साथी सुमित गौड़ सिटी सोसायटी में सुरक्षागार्ड है। वह कम्प्यूटर ऑपरेटर का भी काम सोसायटी में करता है। उसने घटना वाले दिन का सीसीटीवी फुटेज डिलीट करने का प्रयास किया था, लेकिन कर नहीं पाया। सेल्स मैनेजर की हत्या करने के बाद वह सोसायटी में आकर ड्यूटी करने लगा था।

वह मेंटिनेंस विभाग के सुपरवाइजर के साथ मिलकर मैनेजर का शव ढूंढने में का भी नाटक कर रहा था। उसी ने लोगों को शव तक पहुंचाया। तभी वह शक के घेरे में आ गया था।

नई दिल्ली। यूपी में जिला गौतमबुद्ध नगर के नोएडा एक्सटेंशन में एक निजी कंपनी के सेल्स मैनेजर की हत्या का मामला पुलिस ने सुलझा लिया है। पुलिस का दावा है कि तलाक नहीं देने पर पत्नी ने अपने प्रेमी को 3 लाख रुपये की सुपारी देकर हत्या कराई थी। आपको बता दे उसकी लाश एक सोसाइटी के पास उसी की कार में मिली थी। मृतक का नाम रूपेंद्र चंदेल था। पुलिस ने इस मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। लेकिन मृतक की पत्नी यानी मुख्य आरोपी अभी फरार है। तलाक चाहती थी पत्नी ओमवीर इंटीरियर डिजायनर है। उसने सोयायटी में 20 से अधिक फ्लैटों का इंटीरियर डिजाइन किया है। इसी दौरान उसके रूपेंद्र की पत्नी अमृता से संबंध बन गए थे। अपनी शादी के बाद भी वह अमृता के संपर्क में था। इसका पता चलने पर रूपेंद्र विरोध करता था। पत्नी से अक्सर विवाद भी होता था। उनकी पत्नी उनसे तलाक चाहती थी। तलाक न देने पर पत्नी ने अपने प्रेमी व उसके साथियों संग मिलकर पति की हत्या की साजिश रच दी। हत्या करने के लिए प्रेमी को जूलरी बेचकर 3 लाख रुपये भी दिए। वहीं, घटना के बाद पति के पास जो जूलरी थी, उसे लेकर पत्नी गायब है। उनका बच्चा अपने दादा-दादी के पास है। पहले दिन हो गया था पत्नी पर शक पति की हत्या की सूचना के बाद पत्नी मौके पर पहुंची थी, लेकिन बिना तहरीर दिए वापस लौट गई थी। पुलिस ने पड़ोसियों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया था। मामले की जांच में जुटी पुलिस को पहले दिन से ही पत्नी शक हो गया था, लेकिन पुलिस ने मोबाइल कॉल रिकॉर्ड व पूछताछ के आधार पर शक यकीन में बदला। सोसायटी में ही रच दी हत्या की साजिश ओमवीर का साथी सुमित गौड़ सिटी सोसायटी में सुरक्षागार्ड है। वह कम्प्यूटर ऑपरेटर का भी काम सोसायटी में करता है। उसने घटना वाले दिन का सीसीटीवी फुटेज डिलीट करने का प्रयास किया था, लेकिन कर नहीं पाया। सेल्स मैनेजर की हत्या करने के बाद वह सोसायटी में आकर ड्यूटी करने लगा था। वह मेंटिनेंस विभाग के सुपरवाइजर के साथ मिलकर मैनेजर का शव ढूंढने में का भी नाटक कर रहा था। उसी ने लोगों को शव तक पहुंचाया। तभी वह शक के घेरे में आ गया था।