1. हिन्दी समाचार
  2. नोएडा एसएसपी मामला: डीजीपी बोले-SSP वैभव कृष्ण ने किया सेवा नियमों का उल्लंघन

नोएडा एसएसपी मामला: डीजीपी बोले-SSP वैभव कृष्ण ने किया सेवा नियमों का उल्लंघन

Noida Ssp Case Dgp Said Ssp Gautam Buddha Nagar Vaibhav Krishna Violated Service Rules

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। नोएडा के एसएसपी वैभव कृष्ण के वायरल विडियो ने यूपी पुलिस में हड़कंप मचा दिया है। वायरल हुए वीडियो को लेकर आरोप-प्रत्यारोप का दौर चल रहा है। ऐसे में शुक्रवार सुबह डीजीपी ओपी सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पूरे मामले पर रुख स्पष्ट किया। डीजीपी ने कहा कि इस मामले में जांच के लिए एडीजी मेरठ को 15 दिन का और वक्त दिया गया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि एसएसपी नोएडा से पूछा जाएगा कि उन्होंने गोपनीय दस्तावेज क्यों वायरल किए।इसके साथ ही डीजीपी ने कहा कि] एसएसपी वैभव कृष्ण का कृत्य सर्विल रूल के खिलाफ है।

पढ़ें :- अंडरवर्ल्ड ले डूबा इन 5 अभिनेत्रियों का करियर, कोई गई जेल, तो कोई बनी संन्यासिनी

यूपी पुलिस विभाग में तबादला प्रकरण पर वैभव कृष्ण के सवाल उठाये जाने पर डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि नोएडा के एसएसपी के वायरल वीडियो की जांच की जा रही है। डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि आज की यह प्रेस कॉन्फ्रेंस स्पष्टीकरण के लिए है। डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि एसएसपी नोएडा वैभव कृष्ण की रिपोर्ट पर एडीजी मेरठ जांच कर रहे हैं। वैभव कृष्ण से रिपोर्ट वायरल करने के मामले में स्पष्टीकरण मांगा गया है। डीजीपी ओपी सिंह ने कहा एसएसपी गौतमबुद्धनगर वैभव कृष्ण ने पत्र लिखा है कि कुछ वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ट्रांसफर रैकेट में शामिल हैं।

उनका यह कृत्य सेवा नियमों का उल्लंघन है। अब हम इस प्रकरण की जांच करा रहे हैं। डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि अगस्त में नोएडा पुलिस ने पांच पत्रकारों के खिलाफ मुकदमा दर्जकर कार्रवाई की थी, जिसकी जानकारी दी गयी थी। इसको एसएसपी नोएडा ने गृह विभाग और पुलिस मुख्यालय को भेजा था। इसके लीक होने के मामले की एडीजी मेरठ जोन को जांच सौंपी गई है। इसी दौरान एक वीडियो क्लिप वायरल हुआ है। इस मामले में रिपोर्ट भी दर्ज की गयी है।

डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि इस मामले मे नोएडा के एसएसपी से पूछताछ की जा रही है कि आखिरकार उन्होंने गोपनीय दस्तावेज को क्यो लीक किया। ऑल इंडिया सर्विस कंडक्ट रूल की धारा 9 के तहत पूछताछ होगी। इस गोपनीय दस्तावेज मे पूर्व मुख्यमंत्री के ओएसडी मनोज भदौरिया का भी नाम हैं।

इन पुलिस अफसरों के खिलाफ भेजी थी रिपोर्ट
एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया था कि उन्होंने जिन अफसरों के खिलाफ रिपोर्ट भेजी थी उसमें एसएसपी (गाजियाबाद) सुधीर कुमार सिंह, एसपी (सुलतानपुर) हिमांशु कुमार, एसएसपी (एसटीएफ) राजीव नारायण मिश्र, एसपी (बांदा) गणेश साहा और एसपी (रामपुर) डॉ. अजय पाल शर्मा शामिल थे। एसएसपी ने साजिश के लिए इन्हीं अफसरों पर आरोप लगाए हैं। एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया था कि चार्ज संभालते ही अग्निशमन-होमगार्ड विभाग के बड़े अफसरों, पुलिस और पत्रकारों के खिलाफ कार्रवाई की थी। आरोप है कि इसी के बाद उनका विरोध शुरू हो गया था। इसके बाद सोशल मीडिया पर वैभव कृष्ण के तीन कथित आपत्तिजनक विडियो वायरल हुए थे। उन्होंने नोएडा सेक्टर-20 थाने में इसकी रिपोर्ट दर्ज करवाकर आईजी रेंज (मेरठ) से इसकी जांच करवाने की अपील की थी।

पढ़ें :- इन अभिनेत्रियों ने अपने दम पर बनाई बॉलीवुड में पहचान, नंबर 1 को मिल चुके है 3 नेशनल अवॉर्ड

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...