अमेरिका की चेतावनी से नहीं डरे किम जोंग, सेना से कहा- हमले के लिए तैयार रहो

kim-jong-un_650x400_81502431568

North Korea Leader Kim Jong Holds Fire On Guam Missile Launch

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की चेतावनी के बाद भी उत्तर कोरिया ने अमेरिका के गुआम द्वीप पर हमले का फैसला नहीं बदला है. न्यूज एजेंसी रायटर के मुताबिक उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग अपनी सेना से युद्ध के लिए तैयार रहने को कहा है. उत्तर कोरिया के इस रुख के बाद अमेरिका के रक्षा मंत्री जेम्स मैटिस ने कहा अगर उत्तर कोरिया ने गुआम पर मिसाइलें दागीं तो उनकी सेना उसे मार गिराएगी. मंगलवार को उत्तर कोरिया ने हमले के फैसले बदलने की बात कही थी, जिसके बाद गुआम के लोगों ने खुशियां मनाई थी.

इन खबरों के आने के कुछ समय बाद ही अंतरराष्ट्रीय मीडिया में खबर आई की किम जोंग लगभग दो सप्ताह बाद सेना कमान का निरीक्षण करते सार्वजनिक रूप से देखे गए. वह सेना अधिकारियों से उस मैप को समझ रहे थे, जिसमें उन चार मिसाइलों की दिशा तय की गई है जो उत्तर कोरिया के पूर्वी तट के पास से प्रक्षेपित होने के बाद जापान के इलाकों को पार करते हुए गुआम के नजदीक समंदर में गिरेंगे.

रायटर ने कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी के हवाले से कहा है कि किम जोंग ने मंगलवार को काफी देर तक मिसाइल प्रक्षेपण के प्लान के बारे में बातचीत की. किम ने संकेत दिया कि वह अमेरिका-प्रशांत क्षेत्र की ओर मिसाइलों के परीक्षण की योजना को फिलहाल स्थगित रखेंगे. उन्होंने यह भी कहा कि वह अमेरिकियों के मूर्खतापूर्ण बर्ताव को अभी और देखेंगे. अमेरिकी साम्राज्यवादियों ने अपने गले में खुद फंदा डाला है.

गुआम में खुशी का माहौल: इससे पहले उत्तर कोरिया गुआम द्वीप पर चार मिसाइलें दागने की धमकी से पीछे हटते हुए दिखा था. इसके बाद प्रशासनिक रूप से अमेरिका के अधीनस्थ इस क्षेत्र के अधिकारियों ने राहत की सांस ली थी. लेफ्टिनेंट गवर्नर रे टोनोरियो ने कहा, ”यहां ऐसा कोई संकेत नहीं दिख रहा है कि निकट भविष्य या दूरस्थ भविष्य में कोई मिसाइल हमला होगा जैसा कि हम सुन रहे थे.”

टोनोरियो ने कहा कि किम बढ़ा चढ़ाकर दिए गए अपने कुछ बयानों से पीछे हटते दिख रहे हैं. उन्होंने कहा, ”हम खुश है कि उन्होंने अपनी योजनाओं पर विचार किया और गुआम पर तुरंत कोई हमला नहीं करेंगे.” उत्तर कोरिया ने पिछले महीने दो अंतमर्हाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया था जिसकी जद में अमेरिका का मुख्य भूभाग भी आ रहा था. इन परीक्षणों के बाद से क्षेत्र में तनाव बढ़ गया था.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की चेतावनी के बाद भी उत्तर कोरिया ने अमेरिका के गुआम द्वीप पर हमले का फैसला नहीं बदला है. न्यूज एजेंसी रायटर के मुताबिक उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग अपनी सेना से युद्ध के लिए तैयार रहने को कहा है. उत्तर कोरिया के इस रुख के बाद अमेरिका के रक्षा मंत्री जेम्स मैटिस ने कहा अगर उत्तर कोरिया ने गुआम पर मिसाइलें दागीं तो उनकी सेना उसे मार गिराएगी. मंगलवार को उत्तर कोरिया ने हमले…