1. हिन्दी समाचार
  2. चाईनीज नहीं स्वदेशी गौरी-गणेश और दीये से मनाई जाएगी दीपावली, सीएम योगी ने बताया कहां होगा उत्पादन

चाईनीज नहीं स्वदेशी गौरी-गणेश और दीये से मनाई जाएगी दीपावली, सीएम योगी ने बताया कहां होगा उत्पादन

Not Chinese But Indigenous Gauri Ganesh And Diyas Will Be Celebrated Deepawali Cm Yogi Said Where Will Be Produced

By बलराम सिंह 
Updated Date

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने प्रदेश की आर्थिक संरचना को मजबूत करने की कार्ययोजना तैयार कर ली है। इसी के तहत आज योगी सरकार ने ऋण मेले की शुरूआत करते हुए सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योगों (एमएसएमई) से जुड़े उद्यमियों को एक क्लिक पर लोन दिया। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी ने एमएसएमई उद्यमियों का हौसला बढ़ाते हुए आने वाले दिनों में चीनी बाजार पर अपनी निर्भरता कम करने के संकेत दिए। उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि इस बार दीपावली के अवसर पर चीन से गौरी-गणेश की मूर्तियां नहीं आएंगी। गोरखपुर का टेराकोटा चीन से ज्यादा अच्छे उत्पाद तैयार करता है। फिर ऐसी स्थिति में हम चीन से मूर्तियां और दीये क्यों आयात करेंगे।

पढ़ें :- रामपुर:मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी की चौदह सौ बीघा जमीन सरकार के नाम करने के आदेश,जाने पूरा मामला

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि हम गोरखपुर के टेराकोटा को डिजाइन देंगे और उसके अनुसार वे उत्पाद तैयार करेंगे। उन्होंने कहा कि अयोध्या में आयोजित पहले दीपोत्सव में 51,000 दीप प्रज्ज्वलित किए गए थे। यह मिट्टी के दीपक, हमें पूरे उत्तर प्रदेश में ढूंढ़ने पड़े थे तब हमें 51,000 दीपक मिल पाए थे। इस बार हम अपनी क्षमता बढ़ाएंगे ताकि चीन से दीये न खरीदने पड़ें। मालूम हो कि केंद्र द्वारा की गई आर्थिक पैकेज की घोषणा के 24 घंटे के भीतर ही मुख्यमंत्री योगी ने यूपी में एमएसएमई सेक्टर के 56,754 उद्यमियों को एकमुश्त दो हजार से लेकर दो करोड़ तक के लोन बांटे।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...