भ्रष्ट कर्मियों पर शिकंजा : अब वाराणसी में 22 ​पुलिसकर्मियों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति का नोटिस

यूपी: योगी सरकार ने इन 26 IAS अफसरों का किया तबादला, यहां देखें लिस्ट
यूपी: योगी सरकार ने इन 26 IAS अफसरों का किया तबादला, यहां देखें लिस्ट

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ भ्रष्ट अधिकारियों पर नकेल कसने का निर्देश दें चुके हैं। योगी के ​आदेश के बाद भ्रष्ट पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई शुरू हो गयी है। रविवार को बरेली जोन में लापरवाह पुलिसकर्मियों को जबरन रिटायर का नोटिस दिया गया था। इसके बाद आज वाराणसी में 22 पुलसकर्मियों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति की नोटिस दी गयी है। इसके साथ ही एसएसपी ने तीन दरोगाओं की रिपोर्ट भी आईजी को भेज दी है। आशंका है कि उन पर भी जल्द कार्रवाई की जायेगी।

Now 22 Policemen Have Been Forced To Retire In Varanasi :

जानकारी के मुताबिक, पुलिसकर्मियों पर तेजी से कार्रवाई की जा रही है। ऐसे में जल्द ही अन्य पुलिसकर्मियों को जबरन रिटायर किया जा सकता है। भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ केंद्र सरकार ने कार्रवाई शुरू की थी। इसके बाद यूपी सरकार ने यह कार्रवाई शुरू कर दी थी। सीएम योगी आदित्यनाथ ने एक बैठक में सख्त तेवर में कहा था कि, भ्रष्ट अधिकारियों पर तत्काल कार्रवाई की जाये। इसके साथ ही उन्हें जबरन रिटायर करने का आदेश दिया था।

वहीं अब दिल्‍ली सरकार भी भ्रष्ट अधिकारियों को जबरन रिटायर करने की तैयारी में है। बता दें कि, योगी सरकार 200 से ज्‍यादा अधिकारियों और कर्मचारियों पर कार्रवाई कर चुकी है। जबकि 400 से अधिक अधिकारियों और कर्मचारियों को बृहद दंड दिया गया है।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ भ्रष्ट अधिकारियों पर नकेल कसने का निर्देश दें चुके हैं। योगी के ​आदेश के बाद भ्रष्ट पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई शुरू हो गयी है। रविवार को बरेली जोन में लापरवाह पुलिसकर्मियों को जबरन रिटायर का नोटिस दिया गया था। इसके बाद आज वाराणसी में 22 पुलसकर्मियों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति की नोटिस दी गयी है। इसके साथ ही एसएसपी ने तीन दरोगाओं की रिपोर्ट भी आईजी को भेज दी है। आशंका है कि उन पर भी जल्द कार्रवाई की जायेगी। जानकारी के मुताबिक, पुलिसकर्मियों पर तेजी से कार्रवाई की जा रही है। ऐसे में जल्द ही अन्य पुलिसकर्मियों को जबरन रिटायर किया जा सकता है। भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ केंद्र सरकार ने कार्रवाई शुरू की थी। इसके बाद यूपी सरकार ने यह कार्रवाई शुरू कर दी थी। सीएम योगी आदित्यनाथ ने एक बैठक में सख्त तेवर में कहा था कि, भ्रष्ट अधिकारियों पर तत्काल कार्रवाई की जाये। इसके साथ ही उन्हें जबरन रिटायर करने का आदेश दिया था। वहीं अब दिल्‍ली सरकार भी भ्रष्ट अधिकारियों को जबरन रिटायर करने की तैयारी में है। बता दें कि, योगी सरकार 200 से ज्‍यादा अधिकारियों और कर्मचारियों पर कार्रवाई कर चुकी है। जबकि 400 से अधिक अधिकारियों और कर्मचारियों को बृहद दंड दिया गया है।