1. हिन्दी समाचार
  2. अब चीन ने अमेरिकी जासूसी विमान की कथित घुसैपठ का किया विरोध, तनाव बढ़ा

अब चीन ने अमेरिकी जासूसी विमान की कथित घुसैपठ का किया विरोध, तनाव बढ़ा

Now China Opposes The Alleged Intrusion Of Us Spy Plane Tension Increased

By शिव मौर्या 
Updated Date

बीजिंग। चीन और अमेरिका के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है। दोनों देशों के बीच रिश्तों में काफी दरार आने लगी है। दरअसल, अमेरिका का यू 2 विमान चीन के ‘नो-फ्लाई जोन’ दिखने का आरोप चीन लगा रहा है। चीन का कहना है कि यह पूरी तरह से उकसावे की कार्रवाई है। चीन मंत्रालय के प्रवक्ता वू कीन ने इसका कड़ा विरोध किया है और अमेरिका से ऐसी हरकतें रोकने की मांग की है।

पढ़ें :- दीनदयाल जी ने देश को एकात्म मानववाद जैसी प्रगतिशील विचारधारा दी : रवि किशन

बयान में कहा कि चीन का ‘उत्तरी थिएटर कमान’ सैन्य अभ्यास कर रहा था। उसके समय और स्थान संबंधी विस्तृत जानकारी नहीं दी गई। बता दें कि, समुद्री सुरक्षा प्रशासन ने बताया कि यह अभ्यास बीजिंग के पूर्व में बोहाई खाड़ी पर सोमवार को शुरू हुआ और 30 सितंबर तक चलेगा। व्यापार, प्रौद्योगिकी, ताइवान और दक्षिण चीन सागर सहित कई मुद्दों पर चीन और अमेरिका के बीच विवाद जारी है।

दोनों के रिश्ते कई दशकों में सबसे खराब स्तर पर हैं। बताया जा रहा है कि, यू-2 जासूसी विमान कई घंटे तक चीन के आसमान में 70 हजार फीट की ऊंचाई पर मंडराते रहे। उन्होंने पूरी मिलिट्री एक्सरसाइट कैप्चर की। इसके बाद आराम से हिंद महासागर में अपने बेस पर लौट गए। चीन की सेना को इसकी भनक तक नहीं लगी। यू-2 जासूसी विमान पहली बार 1950 में नजर आए। कई बार इसे अपग्रेड किया गया। हालांकि, अमेरिका के पास इनसे कई गुना बेहतर जासूसी विमान भी हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...