अब 100 नहीं 112 नंबर डायल करने पर ​मिलेगी पुलिस की मदद, 26 अक्टूबर से शुरू होगी सेवा

up police
अब 100 नहीं 112 नंबर डायल करने पर ​मिलेगी पुलिस की मदद, 26 अक्टूबर से शुरू होगी सेवा

लखनऊ। पुलिस से शिकायत करने के लिए अब जनता को पुलिस का निःशुल्क 112 नम्बर डॉयल करना होगा। डॉयल 100 नम्बर को 112 में परिवर्तित कर दिया गया है। 26 अक्टूबर के बाद प्रदेश के अलावा अन्य प्रान्तों में भी 112 नम्बर लागू कर दिया जायेगा। पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह रविवार की शाम को जिले के सभी पुलिस कप्तानों के लिए पत्र जारी किया है। इसमें उन्होंने कहा कि 26 अक्टूबर से आपातकालीन हेल्पलाइन 100 नम्बर को 112 में परिवर्तित कर दिया जायेगा।

Now Dialing 100 Not 112 Numbers Will Help The Police Service Will Start From October 26 :

प्रदेश के नागरिकों को अब आपातकालीन पुलिस सहायता के लिए 112 नम्बर डायल करना होगा। इसे डायल कर पुलिस, फायर बिग्रेड, एम्बुलेंस, जीवन रक्षक एजेंसिया (एसडीआरएफ) की सेवा प्राप्त की जा सकेंगी। पुलिस हेल्पलाइन 100 नम्बर को 112 नम्बर में परिवर्तित किये जाने से प्रत्येक नागरिक की कॉल पर अविलम्ब सहायता उपलब्ध होने के साथ-साथ सूचित प्रकरण को विधिक निष्कर्ष तक पहुंचाया जायेगा।

डीजीपी ने पुलिस कप्तानों से उम्मीद कि है कि प्रदेशवासियों को त्वरित पुलिस सहायता उपलब्ध कराये जाने के क्रम में 112 हेल्प लाइन नम्बर परिवर्तन व इसके कारण होने वाले तत्कालिक एवं दीर्घकालिक परिवर्तन का प्रचार-प्रसार अपने पर्यवेक्षणाधीन जनपदों में कराते हुये केन्द्र व प्रदेश सरकार की मंशा के अनुरुप कार्रवाई करें।

उल्लेखनीय है कि 112 नम्बर अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर भी कई देशों में आपातकालीन हेल्पलाइन के रुप में पूर्व से ही स्थापित है। इसी क्रम में भारत सरकार ने इस नम्बर को पूरे देश में, पुलिस आपातकालीन हेल्पलाइन के रुप में स्थापित करने का निर्णय लिया गया है, जिसे चरणवार प्रत्येक प्रान्त में प्राराम्भ किया जा रहा है।

लखनऊ। पुलिस से शिकायत करने के लिए अब जनता को पुलिस का निःशुल्क 112 नम्बर डॉयल करना होगा। डॉयल 100 नम्बर को 112 में परिवर्तित कर दिया गया है। 26 अक्टूबर के बाद प्रदेश के अलावा अन्य प्रान्तों में भी 112 नम्बर लागू कर दिया जायेगा। पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह रविवार की शाम को जिले के सभी पुलिस कप्तानों के लिए पत्र जारी किया है। इसमें उन्होंने कहा कि 26 अक्टूबर से आपातकालीन हेल्पलाइन 100 नम्बर को 112 में परिवर्तित कर दिया जायेगा। प्रदेश के नागरिकों को अब आपातकालीन पुलिस सहायता के लिए 112 नम्बर डायल करना होगा। इसे डायल कर पुलिस, फायर बिग्रेड, एम्बुलेंस, जीवन रक्षक एजेंसिया (एसडीआरएफ) की सेवा प्राप्त की जा सकेंगी। पुलिस हेल्पलाइन 100 नम्बर को 112 नम्बर में परिवर्तित किये जाने से प्रत्येक नागरिक की कॉल पर अविलम्ब सहायता उपलब्ध होने के साथ-साथ सूचित प्रकरण को विधिक निष्कर्ष तक पहुंचाया जायेगा। डीजीपी ने पुलिस कप्तानों से उम्मीद कि है कि प्रदेशवासियों को त्वरित पुलिस सहायता उपलब्ध कराये जाने के क्रम में 112 हेल्प लाइन नम्बर परिवर्तन व इसके कारण होने वाले तत्कालिक एवं दीर्घकालिक परिवर्तन का प्रचार-प्रसार अपने पर्यवेक्षणाधीन जनपदों में कराते हुये केन्द्र व प्रदेश सरकार की मंशा के अनुरुप कार्रवाई करें। उल्लेखनीय है कि 112 नम्बर अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर भी कई देशों में आपातकालीन हेल्पलाइन के रुप में पूर्व से ही स्थापित है। इसी क्रम में भारत सरकार ने इस नम्बर को पूरे देश में, पुलिस आपातकालीन हेल्पलाइन के रुप में स्थापित करने का निर्णय लिया गया है, जिसे चरणवार प्रत्येक प्रान्त में प्राराम्भ किया जा रहा है।