1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. राजस्थान में अब कोई गुट नहीं , कांग्रेस 2023 में दोबारा सत्ता में करेगी वापसी : Sachin Pilot

राजस्थान में अब कोई गुट नहीं , कांग्रेस 2023 में दोबारा सत्ता में करेगी वापसी : Sachin Pilot

राजस्थान (Rajasthan) में रविवार को नई कैबिनेट का शपथ ग्रहण होने जा रहा है। अब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Chief Minister Ashok Gehlot) और सचिन पायलट (Sachin Pilot) के बीच खिंची तलवारें म्यान में आती दिख रही हैं। गहलोत कैबिनेट में रविवार को चार नए मंत्री शपथ लेने जा रहे हैं।  इसी बीच सचिन पायलट ने कांग्रेस आलाकमान (Congress high command) के फैसले पर खुशी जताते हुए कहा कि जो कुछ कमियां थीं, उसपर कांग्रेस हाईकमान (Congress high command) ने ध्यान दिया और उसे पूरा किया। सचिन पायलट (Sachin Pilot)  ने कहा कि मंत्रिमंडल की नई सूची से अच्छा और साकारात्मक संदेश गया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। राजस्थान (Rajasthan) में रविवार को नई कैबिनेट का शपथ ग्रहण होने जा रहा है। अब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Chief Minister Ashok Gehlot) और सचिन पायलट (Sachin Pilot) के बीच खिंची तलवारें म्यान में आती दिख रही हैं। गहलोत कैबिनेट में रविवार को चार नए मंत्री शपथ लेने जा रहे हैं।  इसी बीच सचिन पायलट ने कांग्रेस आलाकमान (Congress high command) के फैसले पर खुशी जताते हुए कहा कि जो कुछ कमियां थीं, उसपर कांग्रेस हाईकमान (Congress high command) ने ध्यान दिया और उसे पूरा किया। सचिन पायलट (Sachin Pilot)  ने कहा कि मंत्रिमंडल की नई सूची से अच्छा और साकारात्मक संदेश गया है।

पढ़ें :- योगी का बुल्डोजर यूपी में माफिया को कर रहा है नेस्तनाबूद : डॉ. दिनेश शर्मा 

उन्होंने कहा कि हमने इस मुद्दे को बार-बार उठाया था। मुझे खुशी है कि पार्टी आलाकमान और राज्य सरकार ने इसका संज्ञान लिया। रविवार को सचिन पायलट ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर साफ किया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Chief Minister Ashok Gehlot)से उन्हें कोई नाराजगी नहीं है। उन्होंने कहा कि पूरी कांग्रेस एकजुट होकर काम कर रही है। आज राजस्थान में हर वर्ग कांग्रेस के साथ जुड़कर काम कर रहा है। पायलट ने कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं और समर्थकों को जिस तरह मौका दिया गया है। उससे वह संतुष्ट हैं। 2023 में कांग्रेस दोबारा सत्ता में आएगी। उन्होंने कहा कि पार्टी के निर्देश पर पूरी निष्ठा से काम करूंगा। बता दें कि शनिवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Chief Minister Ashok Gehlot) के आवास पर हुई बैठक में  गहलोत सरकार के सभी मंत्रियों ने इस्तीफा दिया था।

पायलट ने भाजपा पर साधा निशाना

सचिन पायलट (Sachin Pilot)   ने भाजपा पर भी निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा धीरे-धीरे हाशिए पर जा रही है। गहलोत सरकार के सभी मंत्रियों के इस्तीफे के बाद 15 नए मंत्री शनिवार को शपथ लेंगे, जिनमें से 11 कैबिनेट मंत्री हैं।

सचिन पायलट खेमे से पांच मंत्री

पढ़ें :- गृहमंत्री के सामने BSF के जवान ने गाया ‘तेरी मिट्टी में मिल जावां’, देखिए वीडियो

सचिन पायलट (Sachin Pilot)   खेमे के जिन लोगों को मंत्रालय में शामिल किया गया है, उनमें विश्वेंद्र सिंह, रमेश मीणा और हेमाराम चौधरी कैबिनेट मंत्री हैं, इसके अलावा बृजेंद्र ओला और मुरारी मीणा राज्य मंत्री हैं। हेमाराम चौधरी, मुरारीलाल मीणा व बृजेंद्र ओला पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट (Sachin Pilot)   के करीबी नेता हैं।

पिछले साल अशोक गहलोत ने इन्हें मंत्रिमंडल से बाहर कर दिया था। इसको लेकर सचिन पायलट (Sachin Pilot)   नाराज चल रहे थे, लेकिन गहलोत ने फिर से सचिन पायलट (Sachin Pilot)   के करीबियों को मंत्रिमंडल में शामिल किया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...