1. हिन्दी समाचार
  2. शिक्षा
  3. अब 11वीं 12वीं के विद्यार्थियों को हर महीने मिलेंगे 5 से 7 हजार रूपाए, करना होगा ये काम

अब 11वीं 12वीं के विद्यार्थियों को हर महीने मिलेंगे 5 से 7 हजार रूपाए, करना होगा ये काम

By आराधना शर्मा 
Updated Date

नई दिल्ली: स्कूल, कॉलेज और विश्वविद्यालय स्तर पर विज्ञान से संबंधित छात्रों के उज्ज्वल भविष्य के लिए भारत सरकार द्वारा एक छात्रवृत्ति योजना शुरू की गई है। इस योजना के तहत, 11 वीं, 12 वीं कक्षा और स्नातक करने वाले छात्रों को फेलोशिप की पेशकश की जाती है। भारतीय विज्ञान संस्थान बैंगलोर।

पढ़ें :- प्रो. पीके मिश्रा का इस्तीफा, तो विनय पाठक पर गंभीर आरोपों के बाद राजभवन की 'मेहरबानी' का क्या है 'राज'?

‘किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना’ (केवीपीवाई) फेलोशिप बीते दो दशकों से छात्रों को विज्ञान के क्षेत्र में कैरियर बनाने में काफी मदद कर रहा है। इस योजना के तहत छात्रों को 5 हजार रुपये और 7 हजार रुपये प्रतिमाह की दो अलग-अलग फेलोशिप दी जाती है। इस योजना का लाभ लेने के लिए छात्रों को फेलोशिप के लिए आवेदन करना जरूरी है।

दो चरणों में होती है परीक्षा

विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग ने इस योजना की शुरुआत साल 1999 में की थी। इस योजना का मुख्य उद्देश्य देशभर में विज्ञान के क्षेत्र में छुपी प्रतिभा को बाहर लाना है जिससे देश का और छात्रों के आने वाले भविष्य को संवारा जा सके। राष्ट्रीय स्तर पर छात्रों के चयन के लिए इस योजना के तहत उच्च-स्तरीय प्रवेश परीक्षा का आयोजन किया जाता है। जिसे आमतौर पर दो-चरणों में आयोजित किया जाता है। पहले चरण में ऑनलाइन एप्टिट्यूड टेस्ट और दूसरे चरण में साक्षात्कार होता है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...