घरेलू गैस मूल्य को लेकर सरकार का नया फैसला, नहीं बढ़ेंगे LPG सिलेन्डर के दाम

lpg

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने हर महीने एलपीजी की कीमतों में 4 रुपये प्रति सिलेंडर बढ़ाने का फैसला वापस ले लिया है। सरकार ने यह फैसला उज्जवला स्कीम को ध्यान में रखकर किया गया है। जहां सरकार गरीबों को खाना बनाने के लिए घरेलू गैस मुहैया करवा रही है वहीं हर महीने इस प्रकार गैस का मूल्य बढ़ाना उस योजना के ठीक विपरीत हो रहा है।

गौरतलब है कि इससे पहले सरकार ने सार्वजनिक क्षेत्र के सभी पेट्रोलियम विपणन कंपनियों को जून, 2016 से एलपीजी सिलेंडर की कीमतों में हर महीने चार रुपये की बढ़ोतरी का निर्देश दिया था। इसके पीछे सरकार का मकसद था कि मार्च 2018 तक एलपीजी पर दी जाने वाली सब्सिडी को समाप्त किया जा सके। तेल कंपनियां इस मंजूरी के बाद से करीब 10 बार एलपीजी की कीमतों में इजाफा कर चुकी हैं।

{ यह भी पढ़ें:- SC/ST कर्मियों के प्रमोशन में आरक्षण के लिए सुप्रीम कोर्ट ने दी मंजूरी }

आपको बता दें कि घर के लिए एक साल में सब्सिडी वाले 12 एलपीजी सिलेंडर (14.2 किलो) अधिकृत किए गए हैं। अगर किसी को इससे ज्यादा की जरूरत होती है तो उसे सिलेंडर बाजार मूल्य के हिसाब से ही खरीदना होता है।

{ यह भी पढ़ें:- SC/ST एक्ट पर मोदी सरकार को सुप्रीम कोर्ट ने दिया झटका }

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने हर महीने एलपीजी की कीमतों में 4 रुपये प्रति सिलेंडर बढ़ाने का फैसला वापस ले लिया है। सरकार ने यह फैसला उज्जवला स्कीम को ध्यान में रखकर किया गया है। जहां सरकार गरीबों को खाना बनाने के लिए घरेलू गैस मुहैया करवा रही है वहीं हर महीने इस प्रकार गैस का मूल्य बढ़ाना उस योजना के ठीक विपरीत हो रहा है। गौरतलब है कि इससे पहले सरकार ने सार्वजनिक क्षेत्र के सभी पेट्रोलियम विपणन कंपनियों…
Loading...