1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. अब शिंदे गुट ने बीजेपी से कहा कि ‘गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी को कहीं और भेजो’

अब शिंदे गुट ने बीजेपी से कहा कि ‘गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी को कहीं और भेजो’

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे (Maharashtra Chief Minister Eknath Shinde) के गुट के शिवसेना विधायक संजय गायकवाड़ (Shiv Sena MLA Sanjay Gaikwad) ने सोमवार को सहयोगी बीजेपी से मांग की कि महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी (Governor Bhagat Singh Koshyari) को छत्रपति शिवाजी महाराज (Chhatrapati Shivaji Maharaj) के बारे में उनकी हालिया टिप्पणी के लिए राज्य से बाहर भेजा जाये।

By संतोष सिंह 
Updated Date

मुंबई। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे (Maharashtra Chief Minister Eknath Shinde) के गुट के शिवसेना विधायक संजय गायकवाड़ (Shiv Sena MLA Sanjay Gaikwad) ने सोमवार को सहयोगी बीजेपी से मांग की कि महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी (Governor Bhagat Singh Koshyari) को छत्रपति शिवाजी महाराज (Chhatrapati Shivaji Maharaj) के बारे में उनकी हालिया टिप्पणी के लिए राज्य से बाहर भेजा जाये।

पढ़ें :- महाराष्ट्र के गवर्नर पर शरद पवार ने साधा निशाना, कहा-उन्होंने सारी हदें पार कर दी

बुलढाणा विधानसभा क्षेत्र (Buldhana Assembly Constituency) का प्रतिनिधित्व करने वाले गायकवाड़ ने दावा किया कि कोश्यारी ने मराठा साम्राज्य के संस्थापक के बारे में गलत बयान दिया है। उन्होंने कहा कि कोश्यारी ने अतीत में भी अपने बयान से विवाद खड़ा किया था। विधायक ने कहा कि राज्यपाल को यह समझना चाहिए कि छत्रपति शिवाजी महाराज (Chhatrapati Shivaji Maharaj) के आदर्श कभी पुराने नहीं हो सकते और उनकी तुलना दुनिया के किसी भी महान व्यक्ति से नहीं की जा सकती। केंद्र के भाजपा नेताओं से मेरा अनुरोध है कि एक ऐसा व्यक्ति जो राज्य के इतिहास और यह कैसे काम करता है, नहीं जानता है, उसे तुरंत कहीं और भेज दिया जाए।

गायकवाड़ शिंदे के नेतृत्व वाली बालासाहेबंची शिवसेना गुट के विधायक हैं, जो भारतीय जनता पार्टी (BJP) के साथ गठबंधन में सरकार चलाते हैं। बता दें कि गवर्नर कोश्यारी ने शनिवार को कहा था कि छत्रपति शिवाजी महाराज “पुराने दिनों” के प्रतीक और आदर्श थे। अब बाबासाहेब अम्बेडकर और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी राज्य के नए आदर्श हैं।

बता दें कि शरद पवार की एनसीपी (NCP) और उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाले शिवसेना गुट की ओर से इस बावत सबसे पहले गवर्नर की आलोचना की गई थी। अब एकनाथ शिंदे गुट की तरफ से से उन्हें हटाने का बयान आया है। बता दें कि राज्यपाल कोश्यारी ने औरंगाबाद में आयोजित एक कार्यक्रम में भाजपा के वरिष्ठ नेता गडकरी और राकांपा अध्यक्ष शरद पवार को डी. लिट की डिग्री प्रदान करने के बाद यह टिप्पणी की थी।

पढ़ें :- महाराष्ट्र के राज्यपाल ने दिग्गज़ हस्तियों को जननायक सम्मान से किया सम्मानित
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...