अब इस जिले का नाम बदलने की तैयारी में योगी सरकार, रखा जायेगा पंडित ​दीनदयाल नगर

cm yogi
अब इस जिले का नाम बदलने की तैयारी में योगी सरकार, रखा जायेगा पंडित ​दीनदयाल नगर

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार अब एक और जिले का नाम बदलने की तैयारी में है। इलाहाबाद, फैजाबाद के बाद प्रदेश सरकार अब चंदौली जिले का नाम बदल सकती है। चंदौली का नाम पंडित दीनदयाल नगर हो सकता है। इसको लेकर शासन ने रिपोर्ट मांगी  है, जिसे जिला प्रशासन ने भेज दिया है। जल्द ही शासन की अंतिम मुहर लगने के बाद चौंदली का नाम बदल जायेगा।

Now Yogi Sarkar Is Going To Change The Name Of This District Will Be Kept Pandit Deendayal Nagar :

उम्मीद की जा रही है कि राजकीय मेडिकल कालेज के शिलान्यास कार्यक्रम में प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ इसकी घोषणा कर सकते हैं। बता दें कि, वर्ष 1997 से पहले वाराणसी जिले का ही चंदौली हिस्सा हुआ करता था। लेकिन तत्कालीन सरकार में सीएम रहीं मायावती ने इसे वाराणसी जिले से अलग कर दिया, जिसके बाद इसका नाम चंदौली पड़ा।

पहले जनपद में तीन तहसीलें सदर, चकिया, सकलडीहा थीं, लेकिन पूर्व की सपा सरकार ने नौगढ़ और नियामताबाद को तहसील का दर्जा देकर जिले में पांच तहसील कर दीं। बताया जा रहा है कि, कुछ दिनों पूर्व शासन ने जिला प्रशासन से रिपोर्ट मांगी थी, जिसमें पूछा था कि चंदौली से पंडित दीनदयाल नगर रखने में कोई परेशानी तो नहीं होगी।

जिला प्रशासन ने भी रिपोर्ट भेजकर स्थानीय स्तर से मुहर लगा दी है। साथ ही अपनी ओर से किसी प्रकार की दिक्कत या परेशानी का उल्लेख नहीं किया है। बताया जा रहा है कि, जल्द ही चंदौली जिले का नाम पंड़ित दीनदयाल नगर हो जायेगा।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार अब एक और जिले का नाम बदलने की तैयारी में है। इलाहाबाद, फैजाबाद के बाद प्रदेश सरकार अब चंदौली जिले का नाम बदल सकती है। चंदौली का नाम पंडित दीनदयाल नगर हो सकता है। इसको लेकर शासन ने रिपोर्ट मांगी  है, जिसे जिला प्रशासन ने भेज दिया है। जल्द ही शासन की अंतिम मुहर लगने के बाद चौंदली का नाम बदल जायेगा। उम्मीद की जा रही है कि राजकीय मेडिकल कालेज के शिलान्यास कार्यक्रम में प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ इसकी घोषणा कर सकते हैं। बता दें कि, वर्ष 1997 से पहले वाराणसी जिले का ही चंदौली हिस्सा हुआ करता था। लेकिन तत्कालीन सरकार में सीएम रहीं मायावती ने इसे वाराणसी जिले से अलग कर दिया, जिसके बाद इसका नाम चंदौली पड़ा। पहले जनपद में तीन तहसीलें सदर, चकिया, सकलडीहा थीं, लेकिन पूर्व की सपा सरकार ने नौगढ़ और नियामताबाद को तहसील का दर्जा देकर जिले में पांच तहसील कर दीं। बताया जा रहा है कि, कुछ दिनों पूर्व शासन ने जिला प्रशासन से रिपोर्ट मांगी थी, जिसमें पूछा था कि चंदौली से पंडित दीनदयाल नगर रखने में कोई परेशानी तो नहीं होगी। जिला प्रशासन ने भी रिपोर्ट भेजकर स्थानीय स्तर से मुहर लगा दी है। साथ ही अपनी ओर से किसी प्रकार की दिक्कत या परेशानी का उल्लेख नहीं किया है। बताया जा रहा है कि, जल्द ही चंदौली जिले का नाम पंड़ित दीनदयाल नगर हो जायेगा।