नोटबंदी के बाद डिजिटल लेन देन बढ़ा: अरुण जेटली

नोटबंदी के बाद डिजिटल लेन देन बढ़ा: अरुण जेटली

नई दिल्ली। केन्द्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली का कहा है कि नोटबंदी के बाद से देश की जनता का रुझान डिजिटल लेन देन की ओर बढ़ा है। सोमवार को पंजाब नेशनल बैंक के नए कार्यालय के उद्घाटन में शामिल होने पहुंचे वित्तमंत्री ने कहा,‘नकदी पर अत्यधिक निर्भरता की अपनी लागतें हैं। इसमें लागत ही नहीं लगती है बल्कि यह समाज और अर्थव्यवस्था के लिए अभिशाप भी है।’

उन्होंने कहा कि देश में डिजिटल और बैंकिंग पत्रों के जरिए लेन-देन बढ़ रहा है। सरकार नोटबंदी के बाद से कैस लेस अर्थव्यवस्था को खड़ा करने पर जोर दे रही है। जिसके परिणामस्वरूप लोग डिजिटल पेमेंट की ओर शिफ्ट हो रहे हैं। डिजिटल ट्रांजेक्शन और बैंकिंग इंस्ट्रूमेंट्स के माध्यम से होने वाले लेनदेन बढ़ रहे हैं।

{ यह भी पढ़ें:- इलेक्ट्रिक वाहनों से बच सकते हैं भारत के 20 लाख करोड़ रुपये }

इसके साथ ही ईज ऑफ डूइंग बिजनेस की रैंकिंग में भारत के टॉप 100 में शामिल होने से उत्साहित जेटली ने का कि सरकार अर्थव्यवस्था में मूलभूत सुधारों प्रतिबद्ध है। सरकार जो प्रयास कर रही है उससे भारत इस लिस्ट के टॉप-50 में आने में शामिल हो सकता है।

{ यह भी पढ़ें:- बैंक के इस नए नियम को लागू होते ही रद्द हो जाएगी आपकी चेकबुक }

Loading...