48 घंटों में प्रदूषण नहीं हुआ कम तो लागू होगा ऑड-ईवन फॉर्मूला

नई दिल्ली: दिल्ली और एनसीआर की आवोहवा पूरी तरह जहरीली हो चुकी है। पिछले दो दिनों से घने कोहरे में लोग घरों से बाहर निकलने को मजबूर हैं।बढ़ रहे प्रदूषण पर रोक लगाने के लिए दिल्ली सरकार ऑड-ईवन स्कीम लागू करने की तैयारी कर रही है। सरकार ने कहा है कि अगर 48 घंटे तक प्रदूषण का स्तर नहीं घटा तो ऑड-ईवन स्कीम लागू कर दी जाएगी। दिल्ली में अगले आदेश तक कंस्ट्रक्शन कार्यों पर रोक, ट्रकों का प्रवेश बंद करने, डीएमआरसी/डीटीसी के फेरे बढ़ाने जैसे कई बड़े निर्णय लिए गए हैं। जहरीली हवा को देखते हुए केजरीवाल सरकार ने रविवार तक स्कूल बंद कर दिए हैं।

दिल्ली में बुधवार सुबह भी धुंध की गहरी चादर पसरी रही और कई स्थानों पर विजिबलिटी शून्य के करीब पहुंच गई। शहर में हवा की गुणवत्ता और भी खराब हो गई तथा प्रदूषण का स्तर आपात स्थिति के काफी करीब पहुंच गया। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) का वायु गुणवत्ता सूचकांक 500 अंकों के स्तर में 487 तक पहुंच गया। यह इस बात का संकेत है कि प्रदूषण की स्थिति ‘गंभीर’ है जो सेहतमंद लोगों को भी प्रभावित कर सकती है तथा बीमार लोगों पर ‘गंभीर प्रभाव’ डाल सकती है।

{ यह भी पढ़ें:- दिल्ली में नहीं लागू होगा आॅड-ईवन, NGT की शर्तों पर रजामंद नहीं केजरीवाल सरकार }

सरकार ने जारी किए ये निर्देश

  • दिल्ली में वायु प्रदूषण की वर्तमान स्थिति पर उपराज्यपाल मुख्यमंत्री उप मुख्यमंत्री समेत कई वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक हुई। बैठक में 14 गाइडलाइनस जारी किए गए हैं।
  • शहर में कंस्ट्रक्शन कार्यों पर रोक लगा दी गई है। ताकि धूल और कण से लोगों को कुछ पल के लिए राहत मिले।
  • दिल्ली में ट्रकों की आवाजाही (आवश्यक वस्तुओं को छोड़कर) को अगले आदेश तक बंद कर दिए गए हैं।
  • डीटीसी और परिवहन विभाग सार्वजनिक परिवहन सेवाओं में तेजी लाएंगे।
  • डीएमआरसी, दिल्ली मैट्रो अपने फेरे बढ़ाएगा।
  • नगर निगम, डीडीए और डीएमआरसी अपने पार्किंग फीस चार गुना बढ़ाएगा।
  • नगर निगम और लोक निर्माण विभाग मैकेनिकल रोड़ स्वीपिंग और पानी के छिड़काव में तेजी लाएगा.
  • नगर निगम होटल और भोजनालयों में फायर वुड और कोयले को जलाने पर रोक लगाएगा।
  • ट्रैफिक पुलिस सभी हाट स्पौटों पर ट्रैफिक प्रबंधन में तेजी लाएगा और यातायात की सुगमता के लिए ट्रैफिक पुलिस की अधिकतम तैनाती करेगा। उपराज्यपाल अनिल बैजल ने सभी विभागों को उपरोक्त निर्णयों को जल्द लागू करने के निर्देश दिए।

Loading...