1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. ओम प्रकाश राजभर को अखिलेश का ‘तलाक‘ कबूल, कहा-उनको सुर में सुर मिलाकर बात करने वाला नेता चाहिए

ओम प्रकाश राजभर को अखिलेश का ‘तलाक‘ कबूल, कहा-उनको सुर में सुर मिलाकर बात करने वाला नेता चाहिए

समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) का गठबंधन शनिवार को टूट गया है। सपा ने सुभासपा प्रमुख ओम प्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) और प्रसपा प्रमुख शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) को पत्र लिखा है। इसमें कहा गया है कि आपको जहां अधिक सम्मान मिले, आप जाने के लिए स्वतंत्र हैं। वहीं, इसके बाद सुभासपा प्रमुख ओमप्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) का बयान सामने आया है। उन्होंने अखिलेश यादव पर जमकर निशाना साधा है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) का गठबंधन शनिवार को टूट गया है। सपा ने सुभासपा प्रमुख ओम प्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) और प्रसपा प्रमुख शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) को पत्र लिखा है। इसमें कहा गया है कि आपको जहां अधिक सम्मान मिले, आप जाने के लिए स्वतंत्र हैं। वहीं, इसके बाद सुभासपा प्रमुख ओमप्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) का बयान सामने आया है। उन्होंने अखिलेश यादव पर जमकर निशाना साधा है।

पढ़ें :- क्या फिर बसपा और सपा आ सकते हैं साथ, लोकसभा चुनाव 2024 से पहले हो सकता है गठबंधन

टीवी चैनल से बातचीत करते हुए ओपी राजभर (Om Prakash Rajbhar)  ने कहा कि मैं किसी का गुलाम नहीं। बस दिक्कत ये है कि अखिलेश यादव को वही लोग पसंद हैं जो उनकी हां में हां मिलाएं। राजभर ने कहा कि मैं अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के तलाक को कबूल करता हूं। इस दौरान उन्होंने कहा कि, भदौरिया, अरविंद सिंह और नरेश उत्तम पटेल समेत अखिलेश के नौ रत्न हैं। ये वही लोग हैं जो अपना बूथ तक नहीं जिता सकते।

साथ ही कहा कि, समाजवादी पार्टी किसी के साथ ज्यादा दिन नहीं रहती। ये न कांग्रेस के साथ ही टिक सके और न ही बसपा के साथ। साथ ही राजभर ने कहा कि, मैं उनको सुझाव देता रहा लेकिन उनको मेरी यही बात बुरी लगी। उनको सुर में सुर मिलाकर बात करने वाला नेता चाहिए। मैं आज भी कह रहा हूं कि वो पाल, प्रजापति और कश्यप किसी को भी पार्टी में जगह देना नहीं देना चाहते।

सपा ने पत्र में लिखी यें बातें
सपा की तरफ से ओमप्रकाश राजभर को लिखे हुए पत्र में कहा गया है कि, समाजवादी पार्टी लगातार भाजपा से लड़ रही है। सपा की तरफ से आरोप लगाया गया है कि ओपी राजभर भाजपा को मजबूत करने में जुटे हुए हैं। अगर आपको लगता है कि कहीं आपको ज्यादा सम्मान मिलेगा वहां जाने के लिए आप स्वतंत्र है।

 

पढ़ें :- अखिलेश ने चली बड़ी चाल, बोले- बाबा साहब व लोहिया के सिद्धांतों पर चलने वाले लोग संविधान और लोकतंत्र बचाने का करें काम

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...