योगी सरकार के मंत्री का बयान- 10 महीने से घुट-घुट कर जी रहा हूं, जरूरत पड़ी तो इस्तीफा दे दूंगा

ओम प्रकाश राजभर, योगी सरकार
योगी सरकार के मंत्री ओम प्रकाश राजभर के तेवर तल्ख, भाजपा पर लगाए अनदेखी के आरोप

Om Prakash Rajbhar On Byelection Result

लखनऊ। यूपी के लोकसभा उपचुनाओं में करारी शिकस्त के बाद भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) हार के कारणों पर मंथन कर रही है। इसी बीच योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाक़ात के बाद मीडिया से बातचीत की। राजभर ने कहा कि उपचुनावों में भाजपा ने हमारी पार्टी की मदद नहीं ली, अगर मदद लेते तो हम चुनाव जीत लेते। राजभर ने कहा, सीएम योगी ने भी इस बात की सहमति जताई है।

ओम प्रकाश राजभर ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि अगर गोरखपुर के उपचुनावों में भाजपा सहयोगी पार्टियों की मदद लेती तो कम से कम गोरखपुर सीट पर जीत दर्ज हो जाती। उन्होने कहा, जब देश में आम चुनाव होंगे तब जनता का मूड बदलेगा और एक बार फिर से 2019 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ही बनेंगे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार अपना काम कर रही है। जिस विभाग में हमें शिकायत मिलती है हम उन शिकायतों पर कार्रवाई करते हैं।

कासगंज हिंसा को बताया जिम्मेदार-

राजभर बातचीत के दौरान अपनी सरकार पर ही हमलावर हो गए। उन्होने उपचुनावों में मिली हार के लिए कासगंज हिंसा को भी जिम्मेदार बताया। उन्होने कहा, इस सरकार में सपा और बसपा से ज्यादा भ्रष्टाचार बढ़ गया है। कुछ विभागों के अफसर बिना पैसे लिए काम नहीं करते हैं। उन्होने कहा, कासगंज की घटना की जिम्मेदार प्रदेश सरकार के ही के ही कुछ अधिकारी हैं।

राजभर ने इस दौरान बड़ा बयान देते हुए कहा, “बीते 10 महीने से घुट-घुट कर जी रहा हूं। मैं सत्ता का लोभी नहीं हूं, जरूरत पड़ी तो इस्तीफा दे दूंगा।”

लखनऊ। यूपी के लोकसभा उपचुनाओं में करारी शिकस्त के बाद भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) हार के कारणों पर मंथन कर रही है। इसी बीच योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाक़ात के बाद मीडिया से बातचीत की। राजभर ने कहा कि उपचुनावों में भाजपा ने हमारी पार्टी की मदद नहीं ली, अगर मदद लेते तो हम चुनाव जीत लेते। राजभर ने कहा, सीएम योगी ने भी इस…