कठुआ गैंगरेप-मर्डर : अब्दुल्ला ने PM मोदी की चुप्पी पर उठाया सवाल

कठुआ गैंगरेप-मर्डर , अब्दुल्ला
कठुआ गैंगरेप-मर्डर : अब्दुल्ला ने PM मोदी की चुप्पी पर उठाया सवाल

श्रीनगर। जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कठुआ जिले में आठ वर्षीय आसिफा के साथ हुए दुष्कर्म और हत्या के मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुप्पी पर सवाल उठाया।

उमर ने शुक्रवार को ट्वीट किया, “माननीय प्रधानमंत्री महोदय, ऐसा एक दिन नहीं जाता जब हम उन चीजों के बारे में नहीं सुनते, जो आपके लिए महत्वपूर्ण हैं, फिर भी ऐसे मौके भी आते हैं, जब आप उन चीजों के बारे में चुप्पी साधे रहते हैं, जो दूसरों के लिए महत्वपूर्ण हैं। कृपया आसिफा को ऐसे लोगों में शामिल नहीं करिए, जिसके बारे में आप चुप रहना पसंद करें।”

{ यह भी पढ़ें:- पहली बार मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव, शुक्रवार को होगी लोकसभा में चर्चा }

अब्दुल्ला की यह टिप्पणी सत्तारूढ़ पीपुल्स डेमोक्रेटिकपार्टी (PDP) और भारतीय जनता पार्टी (BJP) गठबंधन के दो मंत्रियों चंदर प्रकाश गंगा और चौधरी लाल सिंह द्वारा कठुआ में हिंदू एकता मंच रैली में शामिल होने के बाद आई है। रैली में मामले की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (SBI) को सौंपने की मांग की गई।

मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती पर दोनों मंत्रियों को कैबिनेट से निकाले जाने का दबाव बढ़ता जा रहा है। महबूबा ने श्रीनगर में कठुआ मामले और कश्मीर घाटी में मौजूदा सुरक्षा हालात पर चर्चा करने के लिए शनिवार को पीडीपी विधायकों और वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक बुलाई है। दुष्कर्म पीड़िता का शव 17 जनवरी को कठुआ के रसाना के जंगल से बरामद किया गया था। यह बच्ची एक सप्ताह से लापता थी।

{ यह भी पढ़ें:- कश्मीर : महबूबा मुफ्ती ने केन्द्र को दी धमकी, PDP तोड़ने की कोशिश की तो भुगतने होंगे नतीजे }

उसे कथित तौर पर एक मंदिर के अंदर बंधक बना कर रखा गया था। उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया गया, जिसके बाद उसकी हत्या कर दी गई थी।

श्रीनगर। जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कठुआ जिले में आठ वर्षीय आसिफा के साथ हुए दुष्कर्म और हत्या के मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुप्पी पर सवाल उठाया। उमर ने शुक्रवार को ट्वीट किया, "माननीय प्रधानमंत्री महोदय, ऐसा एक दिन नहीं जाता जब हम उन चीजों के बारे में नहीं सुनते, जो आपके लिए महत्वपूर्ण हैं, फिर भी ऐसे मौके भी आते हैं, जब आप उन चीजों के बारे में चुप्पी साधे रहते हैं, जो…
Loading...